अमेरिका की क्रांति के कारण

अमेरिका की क्रांति के कारण

अमेरिका की क्रांति के कारण : अमेरिका की क्रांति के प्रमुख कारण। अमेरिकी उपनिवेशों की क्रांति को विश्व इतिहास की प्रमुख घटनाओं में से एक माना जाता है, 17वीं शताब्दी तक शासन ने 13 उपनिवेशों की स्थापना करके अमेरिका के नागरिकों का राजनीतिक एवं आर्थिक शोषण करना और उनके साथ अन्यायपूर्ण व्यवहार करना आरंभ कर दिया था। जिसके परिणामस्वरूप शासन के इस अत्याचार का विरोध करने के लिए उपनिवेशों में संघर्ष शुरू हो गया, जिसने एक महान क्रांति का रूप धारण कर लिया था। अमेरिका की क्रांति आजादी की जीत का प्रतीक थी और यह उन संपूर्ण राज्यों के लिए एक मार्गदर्शन सिद्ध हुआ जो दूसरों की अधीनता में रह रहे थे। अमेरिका उपनिवेशों की क्रांति का कोई विशेष कारण नहीं था अपितु ऐसे बहुत से कारण थे जिसने इस क्रांति को जन्म दिया वे सभी कारण निम्नलिखित हैं –

अमेरिका की क्रांति के कारण

– धार्मिक मतभेद होना

अमेरिका में बसने वाले अंग्रेज खुद पर होने वाले अत्याचारों से परेशान होकर इंग्लैंड छोड़कर आए, इसके अलावा इनके साथ कुछ लोग ऐसे भी आए जो आर्थिक लाभ कमाना चाहते थे। इन लोगों में अधिकांश लोग ऐसे थे जो आंग्ल चर्च को मानने वाले नहीं थे, जबकि इंग्लैंड में आंग्ल चर्च को ही अधिक महत्व दिया जाता था। अतः इस परिस्थिति का परिणाम यह हुआ कि इंग्लैंड के लोगों एवं उपनिवेशों में रहने वाले लोगों के मध्य धर्म से संबंधी मतभेदों ने जन्म ले लिया जिसका परिणाम अमेरिका की क्रांति थी।

– उपनिवेशों में स्वतंत्रता की भावना

उपनिवेशों में स्वतंत्रता की भावना भी अमेरिका की क्रांति का कारण था, प्रारंभ से उपनिवेशों में बसने वाले अधिकांश लोगों में स्वतंत्रता की भावना मौजूद थी जिसकी वजह से इंग्लैंड के शासन एवं नियंत्रण से मुक्ति पाने के लिए अमेरिका के उपनिवेशों में आजाद होने की भावना तेजी से बढ़ने लगी। अमेरिका की क्रांति में स्वतंत्रता के समर्थक जैफरीन, टॉमस पेन, मिल्टन एवं लॉक जैसे लेखकों के अमेरिका के निवासियों को स्वतंत्रता की इस लड़ाई के लिए बहुत प्रोत्साहित एवं प्रभावित किया।

– सरकार की स्वार्थपूर्ण नीति

ब्रिटिश सरकार का यह मानना था कि उपनिवेशों के लोग इंग्लैंड के विकास के लिए एक अच्छा साधन हैं जिसके लिए ब्रिटिश सरकार ने उपनिवेशों से होने वाले व्यापार के संबंध में एक विदेशी नीति अपनाई। इंग्लैंड में ब्रिटिश सरकार की इस नीति से उपनिवेशों के लोग बहुत निराश थे और यह निराशा उस समय और अधिक बढ़ गई जब ब्रिटिश सरकार ने उन पर अपनी इच्छानुसार कर लगाना आरंभ कर दिया। इन करों ने उपनिवेशों को अंदर से झकझोर के रख दिया जो अमेरिका की क्रांति का एक प्रमुख कारण था।

– उपनिवेशों की असुरक्षा

उपनिवेशों में सुरक्षा का अभाव भी अमेरिका की क्रांति का एक कारण था, उपनिवेश की स्थिति ऐसी थी कि वे अपनी सुरक्षा के लिए आपस में सहयोग भी नहीं कर सकते थे। इंग्लैंड सरकार के मंत्रिमंडल ने यह निर्णय लिया था कि उपनिवेशों के लिए 10,000 सैनिकों को स्थाई रूप से रखना था। जिसके अंतर्गत सेना पर होने वाले व्यय का कुछ भाग उपनिवेशों से लिया जाना था। अतः उपनिवेशक इस कर के विरुद्ध हो गए और उन्होंने इसका विरोध करना आरंभ कर दिया।

– शासन से संबंध-विच्छेद

चूँकि अमेरिका में उपनिवेश लोगों को शुरुआत से ही बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ा था परन्तु फिर भी अब वे अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने में समर्थ हो गए थे। अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने के बाद भी उनकी इंग्लैंड पर निर्भरता व संरक्षण उनके लिए किसी भी प्रकार के हित में नहीं था और इन्हीं वजहों से वे उपनिवेश खुद को इंग्लैंड से प्रथक करने के लिए विवश हो गए और इस स्थिति ने क्रांति का रूप धारण कर लिया।

अमेरिका की क्रांति के परिणाम

  • अमेरिका उपनिवेशों की क्रांति के पश्चात इंग्लैंड के सम्राट जॉर्ज तृतीय के निजी शासन का अंत हो गया जिसके उपरांत इंग्लैंड के प्रधानमंत्री छोटे पिट के नेतृत्व से कैबिनेट प्रणाली का जल्द ही विकास होने लगा।
  • अमेरिका की क्रांति के पश्चात अमेरिकी उपनिवेशों स्वतंत्र हो गए जिससे प्रथम ब्रिटिश साम्राज्य एवं व्यापार-प्रणाली का अंत हो गया था।
  • प्रथम साम्राज्य के समाप्त होने के पश्चात द्वितीय ब्रिटिश साम्राज्य की स्थापना हुई जो प्रथम साम्राज्य से कई गुना बड़ा था तथा यहाँ समानता एवं स्वतंत्रता की महत्व दिया गया।
  • अमेरिकी उपनिवेशों की क्रांति के पश्चात संयुक्त राज्य अमेरिका नामक एक नए, शक्तिशाली एवं उन्नतिशील राज्य का उदय हुआ।
  • अमेरिका की क्रांति के पश्चात अमेरिका में राजतंत्र को समाप्त करके एक गणतंत्र राज्य की स्थापना हुई जिसके परिणामस्वरूप अन्य देशों ने भी इस नीति को अपनाया।
  • अमेरिका क्रांति के बाद अमेरिका में पहली बार लिखित संविधान का निर्माण किया गया जिसके पश्चात लिखित संविधान को अन्य देशों द्वारा भी अपनाया गया।

पढ़ें कन्या भ्रूण हत्या के कारण और उपाय

1 Comment

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*