करेंट अफेयर्स (21 मई – 27 मई 2018)

करेंट अफेयर्स (21 मई – 27 मई 2018)

राष्ट्रीय

1. वियतनाम के साथ नौसेना अभ्यास आयोजित करेगा भारत
विस्तार : –
आई.एन.एस. सहयाद्री, आई.एन.एस. शक्ति और आई.एन.एस. कार्मोता नामक 3 भारतीय युद्धपोत 21 मई को वियतनाम के तियन सा पोर्ट में प्रवेश कर गए। दोनों नौसेना के कर्मियों के बीच एक पेशेवर बातचीत के साथ – साथ वियतनामी सरकार के गणमान्य व्यक्तियों के साथ आधिकारिक बैठकें और बातचीत होगी। बंदरगाह चरण के पूरा होने पर, दो नौसेनाओं के युद्धपोत अपना पहला संयुक्त नौसेना अभ्यास आयोजित करेंगे।

2. ई – पर्यटक वीजा से मिला 14 बिलियन रुपये का राजस्व
विस्तार : –
2014 में शुरू हुई बेहद सफल ई – वीजा योजना से सरकार ने राजस्व के रूप में 14 बिलियन रुपये अर्जित किये हैं। ई – वीज़ा योजना गृह मंत्रालय के विदेशी विभाग द्वारा लागू की गई है। इस योजना में व्यापार और चिकित्सा श्रेणी भी शामिल है। यह सुविधा 25 अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों और 5 बंदरगाहों के माध्यम से भारत में प्रवेश करने वाले 163 देशों के नागरिकों के लिए उपलब्ध है।

3. 2.50 लाख ग्राम पंचायतों तक पहुंचेगी सी.एस.सी.
विस्तार : –
2018 के अंत तक सामान्य सेवा केंद्रों (सी.एस.सी.) के नेटवर्क को 2.50 लाख ग्राम पंचायतों तक बढ़ाया जाएगा। सामान्य सेवा केंद्र (सी.एस.सी.) भारत में गांवों को बैंकिंग, बीमा, पासपोर्ट सेवा, टेलीमेडिसीन और पेंशन में इलेक्ट्रॉनिक सेवाएं प्रदान करता है। सी.एस.सी. मॉडल ने शुरूआती चरण में देश के छह गांवों को अपनाया है।

Advertisement

4. तमिलनाडु के ई – गवर्नेंस एजेंसी को मिला पुरस्कार
विस्तार : –
तमिलनाडु के ई – गवर्नेंस एजेंसी (टी.एन.ई.जी.ए.) को व्यवसाय करने में सुविधा को बढ़ावा देने के लिए एक पुरस्कार मिला है। टी.एन.ई.जी.ए. ने एक निवेशक सुविधा पोर्टल विकसित किया है, जो राज्य में औद्योगिक प्रस्तावों के लिए एकल खिड़की की निकासी प्रदान करता है। यह पुरस्कार प्रक्रिया के सरलीकरण और वह सुविधा जिससे एक व्यापार द्वारा विभिन्न अधिकारियों से निकासी की जा सकती है, को मान्यता देने के लिए दिया गया था।

5. ‘गांडीव विजय’ के तहत सेना का युद्धाभ्यास
विस्तार : –
दक्षिण पश्चिमी कमान के चेतक कोर के हजारों सैनिक राजस्थान के महाजन फील्ड में फायरिंग रेंज में गांडीव विजय के तहत गहन प्रशिक्षण में लगे हुए हैं। यह युद्धाभ्यास दो महीने पहले शुरू हुआ था और 23 मई को समाप्त होगा। इस अभ्यास में अलग-अलग स्थानों के मल्टी-मोड मोबिलिज़ेशन शामिल है।

6. नो-फ्लाई सूची में रखा जाने वाला पहला व्यक्ति
विस्तार : –
बिरजू सल्ला, जिसने 2017 में जेट एयरवेज की उड़ान के हाइजैक होने का अफवाह उड़ाया था, “राष्ट्रीय उड़ान प्रतिबंध सूची” में रखा जाने वाला पहला व्यक्ति बन गया। उसे जहाज पर उच्च स्तर के अनियंत्रित व्यवहार के तहत उड़ान से प्रतिबंधित कर दिया गया है, जिसमें 2 साल से लेकर उम्रभर तक की ग्राउंडिंग शामिल है। नो-फ्लाई सूची में शामिल व्यक्ति ग्राउंडेड अवधि के लिए उस एयरलाइन की, अंतरराष्ट्रीय या घरेलू की किसी भी उड़ान में नहीं जा सकता है।

7. भारत ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज़ का परीक्षण
विस्तार : –
भारत ने उड़ीसा तट पर एक परीक्षण सीमा से भारत – रूसी संयुक्त उद्यम ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। डी.आर.डी.ओ. और टीम ब्रह्मोस द्वारा भारत में पहली बार विकसित की गयी “लाइफ एक्सटेंशन” प्रौद्योगिकियों को प्रमाणित करने के लिए यह परीक्षण आयोजित किया गया था। सफल परीक्षण के परिणामस्वरूप सशस्त्र बलों की सूची में रखे गए मिसाइलों की प्रतिस्थापन लागत में भारी बचत होगी।

8. भारत बना अमेरिका का एक प्रमुख रक्षा भागीदार
विस्तार : –
अर्जेंटीना के बैठक में अमेरिका के एक प्रमुख रक्षा भागीदार के रूप में भारत की स्थिति और अमेरिका – भारत की मजबूत रणनीतिक साझेदारी की पुष्टि दोनों देशों द्वारा की गई। ब्यूनस आयर्स में जी 20 मंत्रिस्तरीय बैठक के दौरान, दोनों देशों ने आगामी 2 + 2 मंत्रिस्तरीय वार्ता के एजेंडे पर चर्चा की। भारत और अमेरिका ने अफगानिस्तान में स्थिरता को आगे बढ़ाने के अवसरों पर भी चर्चा की।

9. नौसेना ने आयोजित किया “प्रस्थान” अभ्यास
विस्तार : –
भारतीय नौसेना ने मुंबई के पश्चिमी अपतटीय विकास ऑफशोर क्षेत्र में ‘प्रस्थान’ नामक एक अभ्यास आयोजित किया है। यह अभ्यास हर 6 महीने में आयोजित किया जाता है और इसका लक्ष्य नौसेना, तटरक्षक, वायुसेना, ओ.एन.जी.सी., सीमा शुल्क और पोर्ट ट्रस्ट समेत समुद्री हितधारकों को एकीकृत करना है। यह अभ्यास तेल प्लेटफार्म, तेल के फैलाव, दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टरों की खोज और बचाव जैसी चीजों पर केंद्रित है।

10. उत्तर प्रदेश के बागपत में पहला स्मार्ट और हरा राजमार्ग पूर्वी परिधीय एक्सप्रेसवे
विस्तार : –
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को पहले स्मार्ट और हरे राजमार्ग, उत्तर प्रदेश के बागपत में पूर्वी परिधीय एक्सप्रेसवे समर्पित किया। 135 किलोमीटर लंबा छह-लेन एक्सेस-नियंत्रित एक्सप्रेसवे पर्यावरण अनुकूल है और इसमें विश्व स्तरीय सुरक्षा सुविधाएं हैं। इसमें गाजियाबाद, फरीदाबाद, गौतमबुद्ध नगर और पलवल के बीच सिग्नल-फ्री कनेक्टिविटी की परिकल्पना की गई है। यह 11,000 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। यह जल विद्युत कटाई के प्रावधानों के अलावा सौर ऊर्जा द्वारा जलाया जाने वाला भारत का पहला राजमार्ग है। इससे पहले दिन में प्रधान मंत्री ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के पहले चरण का उद्घाटन किया। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के पहले चरण में 14-लेन राजमार्ग के 9 किलोमीटर के खिंचाव के निर्माण पर 842 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*