ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (Graphical User Interface - GUI) क्या है

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (Graphical User Interface – GUI) क्या है ?

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (Graphical User Interface – GUI) क्या है ? : ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI) एक तरह का यूजर इंटरफ़ेस है जो की उपयोगकर्ताओं को कंप्यूटर उपकरणों के माध्यम से विसुअल इंडिकेटर और ग्राफ़िक आइकॉन को दिखाने का कार्य करता है। ग्राफिकल यूज़र इंटरफेस को वर्ष 1981 में जिरॉक्स पार्स के एलन केय, डगलस एंगेलबर्ट ने अन्य वैज्ञानिकों की सहायता लेकर बनाया था। पहले कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम CUI यानी Character User Interface पर आधारित हुआ करते थे, जैसे – MS-DOS और वर्तमान में यूज़ हो रहे कुछ Linux versions।

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस का मुख्य लाभ यह है कि यह सभी को बहुत आसान लगता है। यदि आप ऑपरेटिंग सिस्टम की कोई ग्राफिकल रिप्रेसेंटेशन बनाएंगे तो यह आपको उपयोग करने में काफी आसान होता है। GUI यूजर को इनफार्मेशन ग्राफिकल फॉर्म (ऑब्जेक्ट के रूप) में प्रदर्शित करता है जो समझने में ज्यादा आसान और उपयोगी होती है साथ ही यूजर द्वारा किये जा रहे एक्शन्स को भी दर्शाता है।

GUI में GUI ऑब्जेक्ट जैसे आइकन, कर्सर, मेन्यू, मेन्यूबार, टूलबार और बटन आदि शामिल होते हैं। इन ऑब्जेक्ट्स का उपयोग करके, एक उपयोगकर्ता कंप्यूटर का उपयोग बिना कमांड्स जाने भी कर सकता है। GUI कंप्यूटर पर कमांड जैसे प्रोग्राम ओपन करने, फाइल डिलीट या मूव करने आदि को चलाने के लिए विंडोज़, आइकन और मेनू का उपयोग करता है।

अगर बात करें माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़ 10 की तो यह GUI बेस्ड ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे आप बिना कमांड रन करे भी आसानी से चला सकते हैं। विंडोज़ 10 की स्क्रीन या डेस्कटॉप पर नजर आने वाले सभी ऑब्जेक्ट और कॉम्पोनेन्ट जैसे आइकन, कर्सर, मेन्यू, मेन्यूबार, टूलबार और बटन आदि GUI के ही पार्ट हैं।

GUI – जीयूआई ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण क्या हैं ? (What are examples of GUI operating system in hindi)

  • माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़ – Windows 7, 10 आदि
  • Apple सिस्टम 7 और macOS
  • Chrome ओएस
  • Android OS
  • GUI इंटरफ़ेस का उपयोग करने वाला Linux वेरिएंट – Ubuntu

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस GUI के फायदे –

  • ग्राफिकल यूजर इंटरफेस पर यूजर बिना कमांड जाने भी आसानी से कार्य कर सकता है यूजर को कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए किसी भी तरह के कमांड को याद करने और चलाने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • जीयूआई में मेन्यू खोलना, फाइलों को इधर-उधर करना और किसी भी प्रोग्राम को इंटरनेट की सहायता से चलाना आसान होता है।
  • जीआईयू में जिस भी आइकॉन से कुछ जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आइकॉन में क्लिक करते ही जीआईयू हमें उससे संबंधित जानकारियों को तुरंत प्रदर्शित कर देता है।

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस GUI के नुकसान –

  • ग्राफिकल यूजर इंटरफेस बहुत सारी प्रोसेसिंग पावर का उपयोग करती है ताकि टेक्स्ट पर निर्भर करने वाला यूआई हम इस्तेमाल कर सकें जिसकी वजह से कंप्यूटर की प्रोसेसिंग प्रभावित होती है।

पढ़ें – वेब सर्वर (Web Server) क्या है, वेब सर्वर के प्रकार

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*