दक्षिण भारत की अरब सागर में गिरने वाली नदियां

दक्षिण भारत की अरब सागर में गिरने वाली नदियां

दक्षिण भारत की अरब सागर में गिरने वाली नदियां : दक्षिण भारत की नदियों को दो भागों में बाँटा गया है – पहली वो नदियां जो बंगाल की खाड़ी में गिरती हैं और दूसरी वो नदियां जो अरब सागर में गिरती हैं। पिछले आर्टिकल में हमने आपको ‘दक्षिण भारत की बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली नदियों’ के बारे में बताया था इस आर्टिकल में हम आपको ‘दक्षिण भारत की अरब सागर में गिरने वाली नदियों’ के बारे में बताएँगे। Dakshin Bharat ki arab sagar men girne vali nadiyan upsc, pcs notes in hindi.

दक्षिण भारत की नदियां

दक्षिण भारत की नदियों को दो भागों में बाँटा गया है –

  1. नदियां जो बंगाल की खाड़ी में गिरती हैं।
  2. नदियां जो अरब सागर में गिरती हैं।

1. दक्षिण भारत की बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली नदियां

दक्षिण भारत की बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली नदियों की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

2. दक्षिण भारत की अरब सागर में गिरने वाली नदियां

  • लूनी नदी

    • राजस्थान में अजमेर के निकट अरावली पर्वत श्रृंखला में निकलती है।
    • इसको लवण नदी भी कहा जाता है । सांभर झील से होकर गुजरती है।
    • गुजरात के रण ऑफ कच्छ में विलुप्त हो जाती है।
  • साबरमती नदी

    • राजस्थान के उदयपुर जिले के मेवाड़ की पहाडियों से निकलती है।
    • गुजरात का अहमदाबाद व गाँधीनगर शहर साबरमती नदी के किनारे ही बसे हुए है।
    • आगे चलकर अरब सागर में खम्भात की खाड़ी में गिर जाती है।
  • माही नदी

    • मध्य प्रदेश में विंध्याचल पर्वत श्रेणी से आती है।
    • तीन राज्यों में बहती मध्य प्रदेश से राजस्थान से अंततः गुजरात में प्रवेश करती है।
    • भारत की ऐसी नदी जोकि कर्क रेखा को दो बार काटती है।
  • नर्मदा नदी

    • प्रायद्वीपीय भारत की सबसे लम्बी नदी जो अरब सागर में गिरती है।
    • प्रायद्वीपीय भारत में लम्बाई के मामले में तीसरे स्थान पर आती है।
    • मध्य प्रदेश में अमर कंटक चोटी से निकलती है ।
    • अमरकंटक से दो नदियां नर्मदा एवं सोन निकलती है। नर्मदा एवं सोन नदियां ऐसी नदियां है जोकि एक ही स्थान से निकलने वाली दो नदियां जो विपरीत दिशा में बहती है।
    • नर्मदा सबसे ज्यादा मध्य प्रदेश में बहती है।
    • भ्रंश घाटी में होकर बहती है।
    • मध्य प्रदेश से महाराष्ट्र से अंततः गुजरात में प्रवेश करती है।
    • भड़ौच के पास अरब सागर में गिर जाती है।
    • मध्य प्रदेश का जबलपुर इसी नदी के किनारे बसा हुआ है।
    • धुँआधार जलप्रपात नर्मदा नदी पर जबलपुर में बनता है।
  • ताप्ती नदी

    • मध्य प्रदेश में महादेव पहाड़ियों से निकलती है।
    • बैतूल पठार का क्षेत्र है।
    • मध्य प्रदेश से महाराष्ट्र से अंततः गुजरात में प्रवेश करती है।
    • सूरत शहर ताप्पी नदी के किनारे ही बसा हुआ है।
  • माण्डवी नदी

    • माण्ड़वी नदी कर्नाटक से आती है।
    • गोवा में आकर अरब सागर में गिर जाती है।
    • गोवा की राजधानी पणजी माण्डवी नदी के तट पर बसा हुआ है।
  • जुवारी नदी

    • गोवा से निकलती है एवं गोवा में ही अरब सागर में मिल जाती है।
  • शरावती नदी

    • कर्नाटक से निकलती है और कर्नाटक में ही अरब सागर में गिर जाती है।
    • कर्नाटक का जोग जलप्रपात इसी नदी के तट पर बनता है। महात्मा गाँधी या गरसोप्पा जलप्रपात नाम से भी जाना जाता है।
  • गंगावेली नदी

    • कर्नाटक से निकलकर कर्नाटक में ही अरब सागर में मिल जाती है।
  • पेरियार नदी

    • केरल से निकलकर केरल में ही अरब सागर में गिर जाती है।
  • भरत पूजा नदी

    • तमिलनाडु से आकर केरल में अरब सागर में गिर जाती है।
Geography Notes पढ़ने के लिए — यहाँ क्लिक करें

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*