पिक्चर, म्यूजिक और वीडियो फाइल फॉर्मेट कौन से होते हैं

पिक्चर, म्यूजिक और वीडियो फाइल फॉर्मेट कौन से होते हैं ?

पिक्चर, म्यूजिक और वीडियो फाइल फॉर्मेट कौन से होते हैं : फाइल फॉर्मेट (File Format) एक फाइल की संरचना है जो प्रोग्राम की फाइल को प्रदर्शित करती है। फाइल फॉर्मेट पिक्चर, म्यूजिक और वीडियो की बनाई जाती है जो निम्नलिखित है –

इमेज/पिक्चर (Image/Picture) फाइल फॉर्मेट क्या है ?

इमेज फाइल फॉर्मेट में हम अपने फोन, कंप्यूटर और लैपटॉप के बहुत सारी इमेजेज को सुरक्षित रख सकते है। इमेजेज के कईं सारे फाइल फॉर्मेट होते है जैसे – JPEG, PNG, GIF, TIFF, BMP, EPS इत्यादि जिनमे से JPEG, PNG और GIF ऐसी फाइल फॉर्मेट है जिनका उपयोग अलग-अलग जगह में सबसे ज्यादा किया जाता है। इमेजेज फाइल फॉर्मेट की सहायता हम बहुत सारी इमेजेज की फाइल बना सकते है और उन्हें एक-साथ भेज सकते है।

कुछ पिक्चर/इमेजेज फाइल फॉर्मेट निम्नलिखित हैं –

  • JPEG फाइल फॉर्मेट – JPEG का पूरा नाम (Joint Photographic Experts Group) है जिसे JPG भी कहा जाता है। यह फाइल फॉर्मेट सबसे ज्यादा उपयोग में लाया जाता है क्योकि इसमें इमेजेज कम्प्रेस्ड होती है और यह 16 मिलियन रंगों का समर्थन करता है जिससे इमेजेज की क्वालिटी बहुत साफ़ होती है।
  • GIF फाइल फॉर्मेट – GIF का पूरा नाम Graphics Interchange Format है जिसका मुख्यतः उपयोग एनिमेटेड ग्राफिक्स के लिए किया जाता है। GIF 8 बिट का फॉर्मेट है जिसमे 256 रंगों का समर्थन होता है। रंगों का कम होने के कारण इसका फाइल साइज थोड़ा छोटा होता है। GIF फाइल फॉर्मेट में बहुत सारा डेटा कंप्रेस्ड हो जाता है इसलिए यह बहुत लोकप्रिय है।
  • PNG फाइल फॉर्मेट – PNG का पूरा नाम Portable Network Graphics है जो एक ट्रांसपेरेंट इमेज फॉर्मेट होती है। PNG, GIF फाइल फॉर्मेट की तरह ही है परन्तु इसको GIF फॉर्मेट की कुछ कमियों को दूर करने के लिए बनाया गया है। लेकिन PNG फॉर्मेट में सबसे बड़ी कमी यह है की इसके फाइल साइज थोड़ा ज्यादा बड़ा लगता है।
  • TIFF फाइल फॉर्मेट – TIFF का पूरा नाम Tagged Images File Format है जिसकी इमेज फॉर्मेट की क्वालिटी बहुत अच्छी और फाइल फॉर्मेट का साइज भी बहुत बड़ा होता है। TIFF फॉर्मेट का उपयोग मुख्यतः डेस्कटॉप पब्लिशिंग और फोटोग्राफी में किया जाता है और यह बहुत लोकप्रिय है।
  • BMP फाइल फॉर्मेट – BMP का पूरा नाम Bitmap है जिसे माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बनाया गया है।  BMP उपयोग कंप्यूटर ग्राफ़िक्स बनाने और स्टोर करने के लिए किया जाता है। BMP छोटे-छोटे बिंदुओं से बना ग्राफ़िक्स फाइल फॉर्मेट है जो बड़ी अनकंप्रेस्ड फाइल विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के अंदर ग्राफ़िक्स फाइल से जुड़ा होता है।

म्यूजिक फाइल फॉर्मेट (Music File Format) क्या होता है ?

म्यूजिक या साउंड फॉर्मेट अलग-अलग प्लेटफार्म के लिए अलग-अलग ऑडियो फोर्मट्स की आवश्यकता होती है। स्मार्टफ़ोन या कंप्यूटर में गाने सुनने और ऑडियो या ऑडियो एडिट करने के लिए अलग-अलग  फॉर्मेट की जरूरत होती है।

सामान्यतः म्यूजिक फोर्मट्स के तीन प्रकार होते है जो निम्नलिखित है –

  1. Uncompressed Audio Formats 
  2. Lossy Compressed Audio Formats 
  3. Lossless Compressed Audio Formats

1. Uncompressed Audio Formats 

इसका उपयोग ऑडियो आर्टिस्ट साउंड रिकॉर्ड करते है, म्यूजिक क्रिएट करने के बाद में उसे एडिट किया जाता है और उसमे कुछ इफ़ेक्ट दिए जाते है उसके बाद जो उसका ओरिजिनल आउटपुट निकलता है उसे Uncompressed Audio formats कहते है। यह फॉर्मेट Uncompressed होने के कारण यह काफी बड़ा होता है इसकी फाइल साइज बहुत बड़ी भी हो सकती है और इसमें ओरिजनली सभी ऑडियो इनफार्मेशन और ऑडियो फॉर्मेट में कन्वर्ट भी कर सकते है। कुछ Uncompressed audio file format निम्नलिखित है –

  • PCM Plus Code Modulation – PCM ऑडियो फोर्मट्स का उपयोग सीडी और डीवीडीएस आदि में किया जाता है। इसमें केवल रॉ एनालॉग ऑडियो क्रिएट होता है और यह उसका ही डिजिटल रिकॉर्डिंग होता है।
  • WAV (Wave form Audio Format) – WAV ऑडियो फोर्मट्स का उपयोग मुख्यतः मीडिया इंडस्ट्री में जितनी भी ऑडियो एडिटिंग होती है उसके लिए किया जाता है। यह अनकंप्रेस्ड होती है इसीलिए ऑडियो इनफार्मेशन और डिटेलिंग ज्यादा होती है इससे जो भी आउटपुट हमे प्राप्त होता है वो काफी बेहतर क्वालिटी का होता है।
  • AIFF (Audio Interchange File Format) – AIFF भी WAV की समान ही है Uncompressed होने के कारण ये फॉर्मेट भी बहुत सारी इंफॉर्मेशन्स से भरा होता है। AIFF ऑडियो फाइल विंडोज बेस्ड सिस्टम में चल सकती है और यह मैक सिस्टम के लिए ज्यादा उचित होता है।

2. Lossy Compressed Audio Formats 

क्योंकि Uncompressed ऑडियो फाइल साइज में काफी बड़ी होती है इसीलिए हम इसमें हर एक ऑडियो की अनकॉम्प्रेसड फाइल सेव नहीं कर सकते है तो उन फाइलों को हम लॉसी कंप्रेस्ड ऑडियो फोर्मट्स में कंप्रेस कर सकते है और उसके बाद फाइल का साइज बहुत छोटा हो जाता है। इसमें फाइल कन्वर्ट करते समय ऑडियो क्वालिटी और ऑडियो इनफार्मेशन भी लॉस हो जाती है। कुछ Lossy Compressed Audio Formats निम्नलिखित है –

  • MP3 (MPEG-1 Audio Layer 3) – MP3 सबसे प्रचलित ऑडियो फॉर्मेट है इसका फाइल साइज छोटा होने के कारण इसे हम अधिकतर कम्प्यूटरों और स्मार्टफोन्स में उपयोग करते है इसकी वजह से हम अपने फोन में बहुत से गाने डालकर सुन सकते है। इनफार्मेशन कम होने के बावजूद भी हम फाइल ऑडियो में आसानी से गाने सुन सकते है।
  • AAC (Advanced Audio Coding) – AAC फाइल फॉर्मेट की MP3 से अधिक टेक्निकली अडवांस्ड होता है। AAC में ऑडियो फॉर्मेट की क्वालिटी सुनने में बहुत अच्छी होती है यह बहुत ही प्रचलित ऑडियो फॉर्मेट है जो यूट्यूब, IOS, आईटून्स, और एंड्राइड जैसे प्लेटफार्म में स्टैंडर्ड ऑडियो कम्प्रेशन मेथड मानी जाती है।
  • WMA (Windows Media Audio) – ये माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा बनाया गया है जो एक विंडोज बेस्ड ऑडियो फॉर्मेट है। यह एक बेहतर ऑडियो फॉर्मेट है जो mp3 से ज्यादा अच्छी क्वालिटी का साउंड देता है, लेकिन सभी प्रकार की डिवाइस WMA का साथ नहीं देती है।

3. Lossless Compressed Audio Formats

यह लॉसी कम्प्रेशन से बिलकुल अलग है लॉसलेस कंप्रेस्ड ऑडियो फोर्मट्स फाइल को कम्प्रेशन होने के बाद भी साउंड क्वालिटी लॉस नहीं करता है। यह लॉसी कंप्रेस्ड फाइल से दो से पांच गुना बड़ी होती है। कुछ लॉसलेस कंप्रेस्ड ऑडियो फाइल निम्नलिखित है –

  • FLAC Free Lossless Audio Codec – FLAC ऑडियो फॉर्मेट बहुत ही प्रचलित और लोकप्रिय ऑडियो फॉर्मेट है। FLAC ऑडियो फॉर्मेट में ओरिजिनल फॉर्मेट को 60% तक कंप्रेस करने के बाद भी उसका एक सिंगल बिट इनफार्मेशन भी लॉस नहीं होता है और इसमें आपको ओरिजिनल अनकंप्रेस्ड ऑडियो क्वालिटी मिल जाती है। FLAC की सबसे बड़ी खूबी यह है की यह फॉर्मेट लगभग सभी डिवाइसों को सपोर्ट करता है इसलिए बहुत से लोग इसको उपयोग करना पसंद करते है।
  • ALAC Apple Lossless Audio Codec – यह एप्पल कम्पनी का फाइल फॉर्मेट था परन्तु बाद में एप्पल ने इसे रॉयल्टी-फ्री ओपन सोर्स घोषित कर दिया था और एप्पल सिर्फ ALAC और iTunes को ही सपोर्ट करता है। ALAC एक बेहतर ऑडियो फॉर्मेट है जिसकी साउंड क्वालिटी बहुत अच्छी है परन्तु यह बेहतर क्वालिटी में FLAC से थोड़ा कम है।

वीडियो फाइल फोर्मट्स (Video File Formats) क्या होता है ?

फाइल फॉर्मेट कंप्यूटर साइंस में फाइल का स्ट्रक्चर होता है। कुछ वीडियो फाइल फॉर्मेट्स बहुत सरल और कुछ बहुत जटिल हो सकते है इनमें कई तरह के निर्देश एवं कोड छिपे होते है। ये फॉर्मेट्स प्रोग्राम के द्वारा प्रिंटर्स एवं अन्य डिवाइस के द्वारा उपयोग किये जाते है। वीडियो फाइल फॉर्मेट का उपयोग पहले वेब पेज पर मूवी और वीडियो को ऐड करने के लिए किया जाता था लेकिन स्ट्रीमिंग मीडिया के आने से इसे बदल दिया गया और किसी भी वीडियो या मूवी को वेबसाइट से जोड़ना बहुत आसान हो गया है। कुछ वीडियो, मूवी फाइल फॉर्मेट्स निम्नलिखित है –

  • AVI Audio Video Interleave – AVI एक स्टैंडर्ड विंडो फॉर्मेट है इसका उपयोग मुख्यतः ऑडियो वीडियो डाटा के लिए किया जाता है। AVI एक मूवी को विंडोज वीडियो को एक्सपोर्ट करता है और यह एक बिटमैप आधारित फॉर्मेट है इसकी फाइल साइज तेजी से बड़ी हो जाती है। AVI फाइल साउंड और मोशन पिक्चर फाइल है जिसको उपयोग करने के लिए एक विशेष सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है।
  • MPEG (Moving Picture Experts Group) – MPEG एक कमेटी है जिसने MPEG को डेवलप किया था। MPEG वीडियो को माइक्रो कंप्यूटर पर देखने के लिए एक MPEG Decoder की आवश्यकता होती है जो हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों का कॉम्बिनेशन हो सकता है। MPEG फुल मोशन वीडियो है जिसमे मूवीज और वीडियोस शामिल है इसमें मूवी और वीडियोस को कंप्रेस और प्लेबैक करने के लिए स्पेसिफिकेशन्स का एक सेट शामिल होता है।

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*