भारत में तेल परिष्करण

भारत में तेल परिष्करण

भारत में तेल परिष्करण :- प्राकृतिक रूप से प्राप्त पेट्रोलियम अशुद्ध होता है जिसे रिफाइनरी में शुद्ध करके पेट्रोलियम उत्पादो(पेट्रोल, डीजल, जेट ईधन, पेट्रोलियम जेली आदि) प्राप्त किया जाते है।

  • भारत देश की पहली रिफाइनरी 1893 में डिग्बोई में स्थापित की गयी थी ।
  • असम राज्य में सर्वाधिक 4 रिफाइनरी है।

भारत में कुल 23 तेल रिफाइनरियां है। जिनका विवरण निम्नलिखित है-

1. सार्वजनिक क्षेत्र

  • इसके अंतर्गत कुल 18 रिफाइनरी आती है।
  • 18 रिफाइनरी में से 9 का स्वामित्व IOC(Indian Oil Corporation) के पास है। IOC ही देश की सबसे बड़ी रिफाइनरी कम्पनी है।
    शेष 9 रिफाइनरियों का स्वामित्व HPCL एवं BPCL के पास है।

2. निजी क्षेत्र

  • इसके अंतर्गत 3 रिफाइनरी आती है।
  • 2 रिफाइनरियों का स्वामित्व RIL(Reliance Industries Ltd) के पास है। दोनों ही गुजरात के जामनगर में स्थित है।
  • 1 रिफाइनरी का स्वामित्व Essar Oil ltd के पास है।

3. संयुक्त उपक्रम के तहत

  • इसके अंतर्गत 2 रिफाइनरी आती है।
  • इसके अंतर्गत आनी वाली रिफाइनरियां, सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के संयुक्त स्वामित्व के अंतर्गत होती है।

देश की 23वीं रिफाइनरी 2016 में ओड़िशा के पारद्वीप में स्थापित की गयी। यहीं देश की सबसे बड़ी रिफाइनरी भी है।

इसे भी पढ़ें –

Geography Notes पढ़ने के लिए — यहाँ क्लिक करें

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*