सहायक अध्यापक (एल०टी०) भर्ती आवेदकों हेतु सूचना

सहायक अध्यापक (एल०टी०) भर्ती आवेदकों हेतु सूचना

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) द्वारा सहायक अध्यापक (एल०टी०) की भर्ती के सम्बन्ध में आवेदकों हेतु जरूरी सूचना जारी की गयी है, जो इस प्रकार है —

“आयोग द्वारा जारी विज्ञप्ति संख्या 08 एवं 13 में पदनाम सहायक अध्यापक पदकोड (87,107,108) की लिखित परीक्षा पूर्व में 17 दिसम्बर को प्रस्तावित की गयी थी और आयोग की वेबसाइट पर इस परीक्षा हेतु प्रवेश परीक्षा जारी किये गये थे तत्पश्चात् लगभग 100 अभ्यार्थियों द्वारा आयोग को लिखित व ई-मेल के माध्यम से प्रत्यावेदन दिया गया कि उनके प्रवेश पत्र में आवेदित विषय उनके मूल शैक्षिक योग्यता से भिन्न हैं या उन्होंने त्रुटिवश गलत विषय का चयन कर लिया है। यह त्रुटियां अभ्यर्थी द्वारा गलत विषय भरने से हुयी है। आयोग द्वारा सम्यक विचारोपरांत यह निर्णय लिया गया है कि इन अभ्यर्थियों को एक अवसर प्रदान करते हुये इनको आयोग द्वारा लिंक के माध्यम से इनके आवेदित विषय में संशोधन का अवसर दिया जाय। इसके साथ चूंकि अब आयोग इस परीक्षा को प्रत्येक जिले में करा रहा है। अत: परीक्षा केन्द्र को बदलने की अनुमति भी इस लिंक के माध्यम से दी जा रही है। इस लिंक को क्लिक करने के पश्चात् अभ्यर्थी के सामने एक पेज ओपन होगा जिसमें कि उसे अपना रजिस्ट्रेशन नं0 व जन्म तिथि प्रविष्ट करने के बाद उसे अपना नाम व पिता का नाम आवेदित पदकोड आवेदित विषय दिखाई देगा। इसके माध्यम से अभ्यर्थी अपने शैक्षिक योग्यता से अलग भरे गए आवेदित विषय को ठीक कर सकता है और इसी पेज पर दी गयी घोषणा को सावधानीपूर्वक पढ़कर फाइनल सबमिट पर क्लिक कर अपना आवेदित विषय व परीक्षा केन्द्र बदल सकता है। यह संशोधन 08/01/2018 तक किया जा सकता है। 

उल्लेखनीय है कि विज्ञापन संख्या 13 दिनांक 12/10/2017 के अनुरूप एक ही विषय का चयन अभ्यर्थी कर सकते हैं क्योंकि एक ही परीक्षा इन सभी पदो के लिये की जा रही है। अत: तद्नुसार अभ्यर्थी अपना विषय संशोधित करें। जिन अभ्यर्थियों ने इन दोनों विज्ञापनों में अलग-अलग विषय चुन लिये हैं वे भी एक विषय को विकल्प के तौर पर चुन लें अन्यथा अभ्यर्थियों का अभ्यर्थन भी निरस्त किया जा सकता है।”

विभाग द्वारा जारी मूल विज्ञप्ति — डाउनलोड करें। 
ऑनलाइन संशोधन हेतु — यहाँ क्लिक करें। 

*उपरोक्त जानकारी विभाग द्वारा जारी पत्रांक संख्या – 1213 पर आधारित है। 

You may also like :

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*