करेंट अफेयर्स (2 अप्रैल - 8 अप्रैल 2018)

करेंट अफेयर्स (2 अप्रैल – 8 अप्रैल 2018)

राष्ट्रीय

1. तमिलनाडु सरकार ने किसानों के लिए “उज्हावन” ऐप शुरू किया
विस्तार : – तमिलनाडु सरकार ने द्विभाषी “उज्हावन” (किसान) ऐप शुरू किया है जो रयोटों को नौ प्रकार की सेवाओं तक पहुंच प्रदान करेगा। इस ऐप का उपयोग किसानों द्वारा कृषि सब्सिडी के बारे में जानकारी प्राप्त करने, कृषि के उपकरणों को बुक करने और फसल बीमा के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है। यह ऐप तमिल और अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध है और इसमें भंडारों में बीज और उर्वरकों की उपलब्धता के बारे में जानकारी शामिल है।

NOTE –

  • तमिलनाडु की राजधानी – चेन्नई
  • तमिलनाडु के मुख्यमंत्री –इडाप्पडी के. पलानीस्वामी
  • तमिलनाडु के राज्यपाल –बनवारीलालपुरोहित

2. खादी स्टोर लोकेटर ऐप लॉन्च किया गया
विस्तार : – MSME राज्य मंत्री, गिरिराज सिंह ने देश में 4,000 खादी दुकानों का पता लगाने के लिए एक मोबाइल फोन एप्लीकेशन प्रारंभ की है। भारत में 8,000 से अधिक खादी स्टोर हैं, शेष स्टोर अप्रैल के अंत तक स्टोर लोकेटर पर उपलब्ध हो जाएंगे। खादी और ग्रामोद्योग उत्पादों का विनिर्माण लगभग 7 लाख निजी स्वामित्व वाली घरेलू इकाइयों द्वारा किया जाता है।

Advertisement

3. बीजापुर में हुआ “वन धन विकास केंद्र” का उद्घाटन
विस्तार : – जनजातीय मामलों के मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में पायलट आधार पर पहले बहुउद्देशीय “वन धन विकास केंद्र” की स्थापना के लिए मंजूरी दे दी है। केंद्र, कौशल और क्षमता निर्माण प्रशिक्षण और प्राथमिक प्रसंस्करण सुविधा स्थापित करेगा। केन्द्र में इमली की ईंटों और महुआ के फूलों के भंडारण की सुविधा होगी।

NOTE –

  • छत्तीसगढ़ की राजधानी – रायपुर
  • छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री-रमन सिंह
  • छत्तीसगढ़ के राज्यपाल-बलरामजी दास टंडन

4. कोयला मंत्रालय ने लॉन्च किया ‘UTTAM’ एप
विस्तार : – कोयला मंत्रालय ने कोलये की गुणवत्ता के लिए ‘UTTAM’ एप लॉन्च किया। ‘UTTAM’ का पूर्ण रुप – Unlocking Transparency by Third Party Assessment of Mined Coal (uttam.coalindia.in) है। कोयला मंत्रालय और कोल इंडिया लिमिटेड (CIL) ने UTTAM को विकसित किया है, जिसका लक्ष्य CIL सहायक कंपनियों में कोयले के तीसरी पार्टी के नमूनाकरण की प्रक्रिया पर नजर रखने के लिए सभी नागरिकों और कोयला उपभोक्ताओं के लिए एक ऐप प्रदान करना है।

5. चुनाव आयोग स्थापित करेगा गुलाबी मतदान बूथ
विस्तार : – चुनाव आयोग (EC), कर्नाटक विधानसभा चुनाव में पहली बार सखी/गुलाबी मतदान केंद्र स्थापित करेगा। इन गुलाबी मतदान बूथों में पूरी तरह से महिला कर्मचारी होंगी जिनमें प्रेसीडिंग अधिकारी, मतदान अधिकारी, सूक्ष्म पर्यवेक्षक और सुरक्षा कर्मियों को शामिल किया गया है। गुलाबी बूथ का उद्देश्य महिलाओं का सशक्तीकरण और चुनाव प्रक्रिया में उनकी भागीदारी को बढ़ाना है।

Related Posts

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*