RSMSSB Lab Assistant exam paper 3 February 2019 Answer Key

RSMSSB Lab Assistant exam paper 3 February 2019

121. दिये गए परिपथ में बिन्दु A व B के बीच प्रभावी प्रतिरोध है –
RSMSSB Lab Assistant exam paper 3 February 2019 QUESTION 121
(A) 5Ω
(B) 10Ω
(C) 40Ω
(D) 50Ω

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

122. एक विभवमापी तार को एक सतत वोल्टेज 3 V लगाया जाता है। 1.08 V वि.वा.ब, वाला सैल 216 सेमी की लम्बाई पर विभवांतर से संतुलित होता है। विभवमापी तार की कुल लंबाई होगी-
(A) 200 सेमी
(B) 400 सेमी
(C) 600 सेमी
(D) 800 सेमी

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

123. क्या हम तांबे के तार का उपयोग विभवमापी (potentiometer) तार के रूप में कर सकते हैं ? सही विकल्प चुनो।
(A) नहीं, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता बहुत अधिक होती है
(B) हाँ, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता कम होती है
(C) नहीं, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता कम होती है एवं प्रतिरोध का तापगुणांक बहुत अधिक होता है ।
(D) हाँ, क्योंकि इसके प्रतिरोध का तापगुणांक बहुत अधिक होता है।

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

124. विभवमापी, वोल्टमीटर की तुलना में विभवान्तर अधिक शुद्धता से नापता है, क्योंकि
(A) इसका तार कम प्रतिरोध का है
(B) इसका तार उच्च प्रतिरोध का है
(C) यह बाहरी परिपथ से उच्च धारा लेता है
(D) यह बाहरी परिपथ से धारा नहीं लेता है

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

125. यंग के द्वि-स्लिट प्रयोग में यदि पीले प्रकाश के एकवर्णी स्रोत को एक लाल प्रकाश वाले से बदल दिया जाए तो फ्रिज चौड़ाई –
(A) बढ़ जायेगी
(B) घट जायेगी
(C) अपरिवर्तित रहेगी
(D) गायब हो जायेगी

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

126. यंग के एक द्वि झिरी (double slit) प्रयोग में झिर्रियों के मध्य दूरी 1 mm और पर्दे की झिरियों 1m है एक 500 nm तरंग दैर्घ्य के एकवर्णी प्रकाश के लिए तीसरै निम्निष्ठ की मध्य उच्छिष्ठ से दूर

(A) 0.50 mm
(B) 1.25 mm
(C) 1.50 mm
(D) 1.75 mm

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

127. बूस्टर का नियम है –
(A) ip= 90°
(B) μ= tan ip
(C) ip -r = tan μ
(D) ip = tan μ

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

128. एकल छिद्र फ्रनहाॅफर विवर्तन में यदि छिद्र की चौड़ाई घटा दी जाए, तो निकटवर्ती निम्निष्ठ-
(A) पास आयेंगे
(B) दूर होंगे
(C) अपनी स्थिति पर टिके रहेंगे
(D) पहले पास आयेंगे फिर दूर होंगे

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

129. हाइड्रोजन स्पैक्ट्रम में बामर श्रेणी की अधिकतम तरंग दैध्ये होगी –
(A) 6557 Å
(B) 1216 Å
(C) 4800 Å
(D) 5600 Å

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

130. जब हाइड्रोजन परमाणु प्रथम उत्तेजित स्तर में होता है, तो इसकी त्रिज्या मूल अवस्था की त्रिज्या व में है –
(A) बराबर
(B) आधी
(C) दुगनी
(D) चार गुणा

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

131. हाइड्रोजन परमाणु को अपनी निम्नतम अवस्था से पहली उत्तेजित अवस्था में जाने के लिए आवश्यक है-
(A) 13.6 eV
(B) 3.4 eV
(C) 10.2 eV
(D) 12.2 eV

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

132. ड्यूटीरियम नाभिक की बन्धन ऊर्जा प्रति व्यक्ति 1.115 Mev है । इस नाभिक के लिये द्रव्यमान क्षति का मान होगा –
(A) 2.23 μ
(B) 0.0024 μ
(C) 0.027 μ
(D) 0.0012 μ

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

133. वीटा रेडियेशन में इलैक्ट्रान उत्पन्न होता है –
(A) परमाणु के आन्तरिक कक्षों से
(B) नाभिक में विद्यमान मुक्त इलैक्ट्रान से
(C) नाभिक में न्यूट्रान के क्षय से
(D) नाभिक से निकलने वाले फोटान से

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

134. जब 7/3 Li को किसी कण से टक्कर दी जाती तो दो अल्फा कण उत्पन्न होते हैं, टकराने वाला कण है –
(A) न्यूट्रॉन
(B) प्रोटॉन
(C) अल्फा कण
(D) ड्यूट्रॉन

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

135. एक अर्द्ध तरंग दिष्टकारी 50 Hz मुख्य आवृत्ति पर कार्य कर रहा है, इसके रिपल की मूल आवृत्ति होगी –
(A) 25 Hz
(B) 70.7 Hz
(C) 100 Hz
(D) 50 Hz

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

136. परम शून्य ताप पर शुद्ध जरमेनियम और शुद्ध सिलिकॉन हैं –
(A) आदर्श चालक
(B) अच्छे अर्द्धचालक
(C) आदर्श अचालक
(D) चालक

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

137. दिये हुए चित्र में लाजिक गेट दर्शाता है –
RSMSSB Lab Assistant exam paper 3 February 2019 QUESTION 137
(A) OR Gate (गेट)
(B) NOT Gate (गेट)
(C) NAND Gate (गेट)
(D) XOR Gate (गेट)

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

138. दरवाजों में हैंडल दरवाज के कब्जों से अधिक दूरी पर बाहरी किनारे पर लगाए जाते है ।
(A) दरवाजों को आसानी से खोलने के लिए अधिकतम बल आधूर्त लगाने के लिए।
(B) दरवाजों को आसानी से खलिने के लिए न्यूनतम बलआधूर्त लगाने के लिए। है
(C) क्योंकि हैंडल की स्थिति से कोई फर्क नहीं पड़ता है । बाहरी किनारों पर हैडल लगाना आसान है।
(D) क्योंकि दरवाजा खोलते समय अंगुलियों पर कब्जों के कारण चोट न पहुचे।

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

139. दो कणों के निकाय की अवधारणा कीजिए जिसमें एक कण का द्रव्यमान m1 व दूसरे का m2 है यदि कण को द्रव्यमान केन्द्र की तरफ d दूरी से खिसकाया जाए तो दूसरे कण को कितनी दूरी से खिसकाना जिससे निकाय का द्रव्यमान केन्द्र अपरिवर्तित रहे ?
RSMSSB Lab Assistant exam paper 3 February 2019 QUESTION 139

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

140. एक वृत्ताकार चकती जिसकी त्रिज्या 0.5 मीटर एवं द्रव्यमान 25 किग्रा है अपना धुरा पर 120 चक्कर की रफ्तार से घूर्णन करती है । चकती का जड़त्व आघूर्ण होगा –
(A) 1.550 किग्रा मी2
(B) 3.125 किग्रा मी2
(C) 4.125 किग्रा मी2
(D) 6.250 किग्रा मी2

Show Answer

Answer – B

Hide Answer