UPSSSC चकबन्दी लेखपाल भर्ती परीक्षा - 2015 (Shift 1)

UPSSSC चकबन्दी लेखपाल भर्ती परीक्षा – 2015 (Shift 1)

21. शुद्ध वाक्य का चयन करें।
(a) इस ग्रंथ का निर्माण तुलसीदास ने किया।
(b) समाज की वर्तमान दशा चिंताजनक है।
(c) मैंने तरह-तरह के रेशम के कपड़े पसंद किए।
(d) तुम्हारी दृष्टि तुम्हारी पुस्तक पर होनी चाहिए।

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

22. शुद्ध वाक्य का चयन करें।
(a) मध्यकालीन युग में कलाओं की बहुत उन्नति हुई।
(b) साहब ने कहा है कि, किसी को अन्दर न जाने दिया जाए।
(c) इस समय मोहन की आयु 20 वर्ष है।
(d) वे चाहे भले ही न आएँ, पर तुम्हें आना होगा।

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

निर्देश : (प्रश्न संख्या 23 से 25) निम्नलिखित वाक्यों में उनके प्रथम तथा अंतिम अंश, संख्या 1 और 6 के अन्तर्गत दिए गए हैं। बीच वाले चार अंश (य), (र), (ल), (व) बिना क्रम के हैं। चारों अंशो को उचित क्रमानुसार व्यवस्थित कर उचित विकल्प चुनें।

23. 1. मजदूरो की बस्तियों में
(य) वहाँ के बेकार रहनेवाले व्यक्तियों के
(र) व्यक्तियों के अपेक्षाकृत अनजान होने से
(ल) और कल्याणकारी कार्यकलापों के न होने से
(व) तथा मनोरंजन, शिक्षा आदि की सुविधाओं
6. बिगड़ने की संभावना बनी रहती है।
(a) य ल र व
(b) व ल य र
(c) र व ल य
(d) ल र व य

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

24. 1. अपने सुधी पाठकों के लिए हम आज से
(य) ताकि इसकी ऐतिहासिक गरिमा अक्षुण्ण रहे
(र) ‘चंद्रकांता’ उपन्यास पर अविकल रुप प्रस्तुत कर रहे हैं,
(ल) किसी फिल्मी अनुवाद का परिवर्तित होकर नहीं।
(व) और नई पीढ़ी तक यह अपने मूलस्वरुप में जाये,
6. अतएव हमने इसको उसी रूप में रहने दिया है, जैसा यह था।

(a) य र ल व
(b) र ल य व
(c) र य व ल
(d) ल य व र

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

25. 1. दूरदर्शन पर प्रदर्शित दो धारावाहिक
(य) लोग इनकी पहले से प्रतीक्षा करते रहते हैं।
(र) इतने लोकप्रिय रहे हैं कि
(ल) और इन्हें देखने के लिए
(व) पहले ‘रामायण’ और अब ‘महाभारत’

6. अपने सारे काम-काज छोड़ देते हैं।

(a) ल व य र
(b) र य ल व
(c) य व ल र
(d) व र य ल

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

निर्देशः (प्रश्न संख्या 26 से 30) निम्नलिखित अवतरण को पढ़कर संम्बद्ध वैकल्पिक उत्तरों में से सही उत्तर का चयन कर उसे चिन्हीत करें।

शिक्षा को वैज्ञानिक और प्रविधिक मूलाधार देकर हमने जहाँ भौतिक परिवेश को पूर्णतया परिवर्तित कर दिया है और जीवन को अप्रत्याशित गतिशीलता दे दी है, वहाँ साहित्य, कला, धर्म और दर्शन को अपनी चेतना से बहिष्कृत कर मानव विकास को एकागी बना दिया है। पिछली शताब्दी में विकास के सूत्र प्रकृति के हाथ से निकलकर मनुष्य के हाथ में पहुँचने गए है, विज्ञान के हॉथ में पहुँच गए हैं और इस बंद गली में पहुँचने का अर्थ मानव जाति का नाश भी हो सकता है। इसलिए नैतिक और आत्मिक मूल्यों के साथ-साथ विकसित करने की आवश्यकता है, जिससे विज्ञान हमारे लिए भस्मासुर का हाथ न बन जाए। व्यक्ति की क्षुद्रता यदि राष्ट्र की क्षुद्रता बन जाती है, तो विज्ञान भस्मासुर बन जाता है। इस सत्य की प्रत्येक क्षण सामने रखकर ही अणु-विस्फोटक को मानव प्रेम और लोकहित की मर्यादा दे सकेंगे। अपरिसीम भौतिक शक्तियों का स्वामी मानव आज अपने व्यक्तित्व के प्रति आस्थावान नहीं है और प्रत्येक क्षण अपने अस्तित्व के संबंध में शंकाग्रस्त है।

26. आज का मानव अपने व्यक्तित्व और अस्तित्व के प्रति इसलिए शंकालु है, क्योंकि
(a) वह विज्ञान की विध्वंसक शक्तियों से भयभीत है।
(b) उसका आत्मविश्वास लुप्त होता जा रहा है।
(c) मानव ईश्वर के प्रति अस्थावाने नहीं है।
(d) वह सीमित भौतिक शक्तियों को स्वामी है

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

27. हमारी विज्ञानधृत शिक्षा की सर्वाधिक महत्वपूर्ण देन है।
(a) जीवन का एकांगी विकास
(b) गतिशील जीवन का प्रत्यार्वतन
(c) जीवन का अपरिसीम भौतिक विकास
(d) जीवन का सर्वांगीण विकास

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

28. मानव जीवन को भस्मासुर बनने से कैसे रोक सकता है?
(a) प्रकृति-जगत का पूर्ण स्वामित्व प्राप्त करके
(b) मानव सभ्यता का विनाश करके
(c) भौतिक जीवन-मूल्यों का निर्धारण करके
(d) नैतिक-आत्मिक मूल्यों को विकसित करके

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

29. आधुनिक मानव विकास को सर्वांगीण नहीं कहा जा सकता, क्योंकि
(a) साहित्य, धर्म कला आदि मानव चेतना से निर्वासित है।
(b) जीवन में अशातीत का समावेश नहीं हुआ
(c) विकास के सूत्र मानव के हाथ में है।
(d) भौतिक परिवेश पूर्णतया परिवर्तित हो गया है।

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

30. अणु-विस्फोटक को मानवतावाद की मर्यादा देना तभी संभव है, जब व्यक्ति की।
(a) क्षुर्द भावनाओं का उन्नयन हो
(b) उदात भावनाओं को विकसित किया जाए।
(c) क्षुद्रता को राष्ट्र की क्षुद्रता न बनने दिया जाए।
(d) क्षुद्रता जब राष्ट्र की क्षुद्रता बन जाए।

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

31. रामवृक्ष बेनीपुरी की रचना ‘माटी की मूरतें’ किस साहित्यिक विधा से संबंधित है?
(a) यात्रावृत्तान्त
(b) उपन्यास
(c) रेखाचित्र
(d) नाटक

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

32. निम्न में से कौन-सी बोली पूर्वी हिन्दी के अन्तर्गत नहीं आती है?
(a) अवधी
(b) बघेली
(c) छत्तीसगढ़ी
(d) मगही

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

33. भारतेन्दु हरिश्चन्द्र का कौन-सा नाटक बंगला भाषा से अनूदित है?
(a) विद्यासुन्दर
(b) चंद्रावली
(c) नयी चाल में ढली
(d) कविवचनसुधा

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

34. मुगल बादशाह शाहजहाँ ने किस कवि. को ‘महाकविराय’ की पदावली दी थी?
(a) सेनापती
(b) कादिर
(c) बनारसीदास
(d) सुंदर

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

35. रिक्त स्थान में उचित शब्द भरें:
व्यंग्य लेखक सामाजिक-पर तीखा प्रहार करता है
(a) अनुरुपता
(b) अभिरामता
(c) संगति
(d) विद्रूपता

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

36. निम्नलिखित में से कौन ज्ञानश्रयी शाखा के कवि हैं?
(a) कबीरदास
(b) तुलसीदास
(c) रहीमदास
(d) मलिक मुहम्मद जायसी

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

37. ‘जयचंद्रप्रकाश’ नामक महाकाव्य के लेखक हैं।
(a) बलदेवचंद्र
(b) भगवान सिंह
(c) चंदबरदाई
(d) भट्ट केदार

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

38. मैथिलीशरण गुप्त का संबंध आधुनिक काल के किस युग से है?
(a) छायावादोत्तर युग
(b) द्विवेदी युग
(c) छायावादी युग
(d) शुक्ल युग

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

39. ‘ठिठुरता हुआ गणतंत्र’ इस व्यंग्य संग्रह के व्यंग्यकार हैं।
(a) मैथिलीशरण गुप्त
(b) भवानीप्रसाद मिश्र
(c) धर्मवीर भारती
(d) हरिशंकर परसाई

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

40. निम्नलिखित रचनाओं को उनके साहित्य की विधा के साथ सुमेलित करके सही उत्तर चिन्हित करेः
A. निर्मला           1. नाटक
B. चिता के फूल 2. कहानी
C. वरदान          3. निबंध
D. भारतदुर्दश  4. उपन्यास
.    A B C D
(a) 1 2 3 4
(b) 4 2 1 3
(c) 4 1 2 3
(d) 4 3 2 1

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

4 Comments

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*