UPSSSC Stenographer exam paper 2016

UPSSSC Stenographer exam paper 2016

21. 1. व्यावसायिक बाराती अपने अनुभव का लाभ उठा
य. गाँव में घुसपैठ करते। मीठे से ऊबे हुए छाछ
र. मसोस कर रह जाते। निपुण बाराती अपनी पहचान
ल. राबड़ी का जुगाड़ बिठा लेते। दूसरे लोग तब मन
व. निकालकर अच्छे बिस्तर, स्थान का लाभ उठाते और
6. इसी समय का सदुपयोग करके नए रिश्तों का तानाबाना बुनते।
A. ल र य व
B. व य ल र
C. र व य ल
D. य ल र व

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

22. 1. तुलसीदास जी कई वर्षों तक काशी में रहने के पश्चात्
य. वह कभी-कभी काशी और चित्रकूट भी चले जाते थे।
र. रामचरितमानस के अतिरिक्त उन्होंने कई अन्य
ल. अयोध्या चले गए। वहाँ उन्होंने रामचरितमानस लिखा
व. पुस्तकें लिखी हैं, जिनमें विनय-पत्रिका, गीतावली,
6. कवित्त रामायण, रामललानहछू और हनुमान बाहुक अधिक प्रसिद्ध हैं।
A. ल य र व
B. र व ल य
C. व ल य र
D. य र व ल

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

निर्देश : (प्रश्न संख्या 23 से 27) : निम्नलिखित गद्यांश को भली-भॉँति पढ़ें। इससे संबद्ध प्रश्नों में प्रत्येक के चार वैकल्पिक उत्तर दिये गये हैं। इनमें से सही उत्तर का चयन कर उसे चिन्हित करें।

क्या हम बिना क्रोध किए, शांत रह सकते हैं ? बात तो क्रोध करने की हो, पर अपने को शांत रखना ही योग है। इस महायोग की प्रवृत्ति हम स्वयं पैदा कर सकते हैं। महत्वपूर्ण है कि हम एकांत में बैठें – आस्था रखे कि हाँ मुझे शांत रहना है। मुझे किसी भी परिस्थिति में, उत्तेजित नहीं होना है – और मैं ऐसा कर सकता हूँ। अतः एकाग्रचित होकर दृढ संकल्प शक्ति द्वारा हम शांत रहने की प्रवृत्ति को अपना कर क्रोध कर काबू पा सकते हैं। शांत रहने का मार्ग अपनाने पर, हमारी दुनिया बदल जाएगी और जीवन अधिक आनंदमय लगेगा। हमारे चेहरे पर नई चमक, कार्य में नया उत्साह, हृदय में निर्मलता एवं शीतलता का स्वयं अनुभव होने लगेगा। बिना श्रम के, बिना किसी खर्च के और किसी उपचार के बिना ही पाचनक्रिया स्वतः ठीक होने पर, छोटे-मोटे रोग दूर भाग जाएँगे। खीजना, गुस्सा करना, चीखना-चिल्लाना और बड़बड़ाते रहना, हमारे मन के गुब्बार को ही परिलक्षित करते हैं। इनसे हमारी पहचान पर धब्बा लग जाता है और हमारे ओजस्वी चेहरे पर चिंता की रेखाएँ उभर आती हैं। अगर हम कुछ समय निकाल कर, पूर्ण समर्पण के साथ शांत रहने की आदत डालें तो निश्चय ही सफलता हमारे कदम चूमेगी। शांत रहने की प्रक्रिया में, यदि हम रात्रि को शयनकक्ष में जाने से पूर्व, अपनी व्यक्तिगत दैनन्दिनी (डायरी) में दिन भर की वे घटनाएँ लिखते रहें जब हम शांत नहीं रह सके कुछ दिनों बाद वही दैनन्दिनी पढ़ने पर आप अपनी तब की कमजोरी पर स्वयं हँस पड़ेंगे। कितनी छोटी बात पर हम क्रोध करने लगते हैं। आओ ! हम गुस्सा व उत्तेजना को फेंक दें और शांत रहना शुरू करें।

23. उपर्युक्त गद्यांश का सही शीर्षक है
A. एकाग्रचित बनो
B. क्रोध में अमंगल
C. शांत रहो – सुखी रहो
D. सफलता का उपाय

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

24. क्रोध आने की स्थिति में शांत रहने की प्रवृत्ति को क्या नाम दिया गया है ?
A. महायोग
B. शांति
C. सुख का मार्ग
D. क्रोध पर विजय

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

25. क्रोध को काबू में रखने से मुख्यतः कौन-से रोग दूर होते हैं ?

A. अशांत रहना
B. चीखना-चिल्लाना
C. मन के गुब्बार

D. पाचनक्रिया से जुड़े

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

26. चिंता की रेखाएँ कहाँ उभर आती हैं ?

A. सारे शरीर पर
B. ओजस्वी चेहरे पर
C. गालों पर
D. मस्तक पर

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

27. शांत रहने की प्रक्रिया में आगे बढ़ने के लिए रात को क्या करें ?
A. क्रोध के अनुभव डायरी पर लिखें
B. विश्वासपूर्वक प्रभु से प्रार्थना करें
C. डायरी पर लिखे हुए अनुभव पढ़ें
D. शांत वातावरण में सोने जाएँ

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

निर्देश : (प्रश्न संख्या 28 से 30) : प्रत्येक प्रश्न वाक्य में एक अधोरेखांकित शब्द है। उसके नीचे लिखे शब्दों में से तीन अशुद्ध रूप से लिखे गये हैं। चौथे शब्द रूप में लिखे शब्द का चयन कर उसे चिन्हित करें।

28. उस ‘कवित्री की कविताएँ बहुत पसंद की गई।’
A. कवियित्री
B. कवीत्री
C. कवयत्री
D. कवयित्री

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

29. प्रधानमंत्री के भाषण की श्रुतिलिपि उसने उसी समय ले ली।
A. श्रुतिलिपी
B. श्रुतलिपि
C. श्रुतलीप
D. श्रुतलिपी

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

30. भग्गू सेठ तो बहुत ही दूश्चरित्र व्यक्ति है।
A. दुश्चरित्र
B. दुस्चरित्र
C. दुष्चरितृ
D. दुष्चरित्र

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

निर्देश : (प्रश्न संख्या 31 तथा 32) : नीचे दिये गये मुहावरों/लोकोत्तियों के चार-चार वैकल्किक अर्थ दिये गये हैं। इनमें से सही अर्थ का चयन कर उसे चिन्हित करें।

31. मुहँ की खाना
A. भोजन खा लेना
B. भाग जाना
C. हार जाना
D. गिर पड़ना

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

32. डपोरशंख
A. विशेष तरह का शंख
B. बे सिर-पैर की बातें करने वाला
C. बहुत बड़ी गिनती
D. भारतीय शंख

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

निर्देश : (प्रश्न संख्या 33 से 40) : निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न में तीन गद्यांश दिये गये हैं। त्रुटि वाले वाक्यांश को चुनें और उसके अनुरूप A, B, C पर चिन्ह लगाएँ। यदि वाक्य त्रुटिहीन ही, तो D पर चिन्ह लगाएँ।

33. A. हमारी दुग्धशाला में शुद्ध गाय का घी बिकता है
B. मिलावट सिद्ध करने पर
C. पाँच हजार रुपये का पुरस्कार प्राप्त करें।
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

34. A. महापुरुष किसी भी देश, जाति अथवा धर्म में जन्म लेकर
B. उसी देश, जाति अथवा धर्म तक सीमित नहीं रहते
C. वे तो सम्पूर्ण मानवता के पथ प्रदर्शक होते हैं।
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – D

Hide Answer

35. A. पल्स-पोलियो से बचाव के लिए
B. सबसे सरलतम उपाय
C. शिशुओं को निरोधक खुराक देना है
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – B

Hide Answer

36. A. महामहिम राष्ट्रपति
B. हमारे संस्थान में स्वर्ण जयंती समारोह का
C. उद्घाटन करेगा
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

37. A. अपने परिवार एवं प्रियजनों के विषय में
B. स्वास्थ्य संबंधी कुशल समाचार
C. शीघ्र भेजने की अनुकम्पन करें
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

38. A. भारतवर्ष के पर्वतीय क्षेत्र की
B. सुन्दरता, सारे विश्व में
C. सबसे सर्वोत्तम है
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – C

Hide Answer

39. A. कई रेलवे के कर्मचारी भी
B. इस विराट प्रदर्शन में
C. भाग लेने के लिए पहुँचे
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

40. A. सरदार पटेल से अच्छी
B. राजनीतिज्ञ एवं प्रशासक
C. इस देश में फिर नहीं हुआ
D. कोई त्रुटि नहीं

Show Answer

Answer – A

Hide Answer

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*