भारत में अणु शक्ति वाले खनिज भण्डार

भारत में अणु शक्ति वाले खनिज भण्डार

भारत में अणु शक्ति वाले खनिज भण्डार :-  प्रकृति में कुछ ऐसे तत्व हैं जिनका नाभिक स्वतः विखंडित होता रहता है तथा उनसे ऊर्जा निकलती रहती है। ऐसे तत्वों को अणु शक्ति वाले खनिज कहा जाता है। ये भी धात्विक खनिज हैं।

  • प्रकृति में पाये जाने वाले अणु शक्ति खनिज निम्नलिखित है-
    — यूरेनियम, थोरियम, बेरिलियम, जिक्रोन, एण्टीमनी
  • रेडियोएक्टिव तत्वों का विखंडन करने से ऊर्जा प्राप्त होती है।

यूरेनियम (Uranium)

  • भारत विश्व का 2% यूरेनियम उत्पादन करता है।
  • प्रकृति में स्वतंत्र रूप में पाया जाता है।
  • इसमें स्वतः विखंडन क्षमता होती है। अर्थात हर वक्त किरणें निकलती रहती हैं।
  • यूरेनियम के प्रमुख अयस्क- पिचब्लेंड, सामरस्काइट, थोरियानाइट।
  • परमाणु विद्युत उत्पादन में प्रमुख रूप से प्रयोग किया जाता है।
  • भारत का 70% यूरेनियम उत्पादन झारखण्ड के सिंहभूमि जिले में होता है, जादूगोड़ा की खान में।
  • भारत में यूरेनियम की प्रमुख खाने-
    i. झारखण्ड- जादूगोड़ा, बगजाता।
    ii. मेघालय- खासी पहाड़ी में महाडस्क नामक स्थान पर।
    iii. आन्ध्र प्रदेश- तुम्मलापल्ली में।

थोरियम (Thorium)

  • थोरियम प्रकृति में स्वतंत्र रूप से नहीं पाया जाता है।
  • केरल तट पर मोनाजाइट बालू से प्राप्त किया जाता है।
  • थोरियम, यूरेनियम की भांति स्वतः विखण्डनीय नहीं होता है।
  • भारत थोरियम का विश्व में सबसे बड़ा उत्पादक राज्य है।
Geography Notes पढ़ने के लिए — यहाँ क्लिक करें
मात्र ₹399 में हमारे द्वारा निर्मित महत्वपुर्ण Geography Notes PDF खरीदें - Buy Now

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*