स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना

स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना

स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना (Golden Quadrilateral Project) : स्वर्णिम चतुर्भुज योजना वर्ष 1999 में शुरू हुई थी लेकिन निर्माण कार्य आधिकारिक तौर पर 2001 में शुरू हुआ था। तत्कालीन प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने सबसे बड़े राजमार्ग की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना’ की शुरुआत की थी।

Golden Quadrilateral Project
स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना

स्वर्णिम चतुर्भुज योजना (Golden Quadrilateral)

  • स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना देश के चार महानगरों को राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) से जोड़ने वाली परियोजना है।
    दिल्ली-मुम्बई-चेन्नई-कोलकाता इसकी कुल लम्बाई 5846 कि०मी० है।
  • स्वर्णिम चतुर्भुज(Golden Quadrilateral) कुल 13 राज्यों से होकर गुजराता है।
राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) का नाममहानगरों के नामकुल लम्बाईराष्ट्रीय राजमार्ग के मध्य में पड़ने वाले प्रमुख शहर
NH-48दिल्ली – मुम्बई1419 कि०मी०दिल्ली,हरियाणा, राजस्थान (जयपुर, उदयपुर), गुजरात(अहमदाबाद, सूरत), महाराष्ट्र(मुम्बई)
NH-48मुम्बई – चेन्नई1290 कि०मी०महाराष्ट्र (मुम्बई, थाने पुणे), कर्नाटक(बेंगलुरू), तमिलनाडु (चेन्नई)
NH-16चेन्नई – कोलकाता1684 कि०मी०आंध्र प्रदेश (नेल्लूर, गुंटूर, विजयवाड़ा, विशाखापट्टनम), ओडिशा (भुवनेश्वर), पश्चिम बंगाल (खड़गपुर, कोलकाता)
NH-16कोलकाता – दिल्ली1435 कि०मी०पश्चिम बंगाल (आसनसोल) झारखंड, बिहार (मोहनिया), उत्तर प्रदेश (मथुरा, कानपुर, आगरा, प्रयागराज, बनारस, हरियाणा दिल्ली)

 

इसे भी पढ़ें —

Geography Notes पढ़ने के लिए — यहाँ क्लिक करें

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*