चमोली

चमोली (अंग्रेजी में : Chamoli) भारतीय राज्य उत्तराखंड का सबसे बड़ा जिला है जिसका कुल क्षेत्रफल 8,030 वर्ग किमी है। चमोली जिले की स्थापना 24 फरवरी, 1960 को की गयी।

 

Chamoli District
चमोली जनपद

चमोली जिले के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य —

  • चमोली के उपनाम – चांदपुरगढ़ी, अलकापुरी
  • चमोली जिला कब बना – 14 फरवरी, 1960
  • चमोली का क्षेत्रफल – 8,030 वर्ग किमी
  • चमोली की कुल जनसंख्या – 3,91,605
  • चमोली जिले की साक्षरता दर – 82.65 %
  • चमोली जिले में कितनी तहसील हैं – 12 (चमोली, कर्णप्रयाग, जोशीमठ, थराली, पोखरी, गैरसैंण, घाट, आदिबद्री, जिलासू, नन्द प्रयाग, देवल, नारायणबगड़)
  • चमोली जिले में कितने ब्लॉक हैं (विकासखंड) – 9 (कर्णप्रयाग, जोशीमठ, थराली, गैरसैण, घाट, देवाल, दशोली, नारायणबगड़, पोखरी)
  • चमोली जिले में कुल गांव – 1244
  • चमोली के प्रसिद्ध मन्दिर – बद्रीनाथ धाम (उत्तर का धाम), नंदादेवी, नारायण मंदिर, विष्णु मंदिर , उमादेवी (कर्णप्रयाग)
  • चमोली के प्रसिद्ध मेले – गौचर मेला , शहीद भवानिदत्त जोशी मेला, असेड सिमली मेला, रुपकुण्ड महोत्सव, वंड विकास मेला
  • चमोली के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल – बद्रीनाथ, हेमकुंड, फूलो की घाटी, गैरसैण (प्रस्तावित राजधानी), आदिबद्री, औली, जोशीमठ, गौचर, कर्णप्रयाग, ग्वालदम, गोपेश्वर
  • चमोली के ताल – विष्णुताल, सत्यपथताल, संतोपंथ झील, रुपकुण्ड (रहस्यताल), बेनीताल, सुखताल, आछरीताल, काकभुशुंडी ताल, लिंगताल
  • चमोली के कुण्ड – तप्तकुण्ड, ऋषिकुण्ड, हेमकुंड, नंदीकुण्ड
  • चमोली की जल विद्धुत परियोजनायें – विष्णुगाड़ परियोजना
  • चमोली के पर्वत – नीलकंठ, सतोपंथ, बद्रीनाथ, नंदादेवी (ऊँचाई 7218 मीटर)
  • चमोली के दर्रे – किंगरी-बिंगरी, नीतीला, बालचा, श्लश्लला, माणाला, लमलंगला, डूर्गीला, लातुधुर
  • चमोली के बुग्याल – बेदनी बुग्याल, नंदनकानन, गोरसों, लक्ष्मीवन, क्वारीपास, कैला, जलीसेरा, औली, घसतौली, पाडुसेरा, रुद्रनाथ, रातकोण, मनणि, चोमासी, बागची
  • चमोली की सीमा रेखा – उत्तर-पश्चिम में उत्तरकाशी, दक्षिण-पश्चिम में पिथौरागढ़, दक्षिण पूर्व में अल्मोड़ा, दक्षिण-पश्चिम में रुद्रप्रयाग और पश्चिम में टिहरी गढ़वाल से घिरा हुआ है।
  • चमोली की गुफायें – व्यास गुफा, राम गुफा, गणेश गुफा, मुचकुण्ड गुफा
  • चमोली के राष्ट्रीय उद्यान – नंदादेवी, केदारनाथ, फूलों की घाटी
  • चमोली के राष्ट्रीय राजमार्ग – NH-58 (दिल्ली-बद्रीनाथ)
  • चमोली में हवाई पट्टी – गौचर
  • चमोली में कुल विधानसभा क्षेत्र – 3 (बद्रीनाथ, कर्णप्रयाग, थराली (अनुसूचित जाति))
  • चमोली में लोकसभा सीट – गढ़वाल लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत
  • चमोली में बहने वाली नदीयाँ – पिण्डर, अलकनंदा, नंदाकिनी, रामगंगा, धौलीगंगा
  • चमोली जिले के जिलाधिकारी का नाम – श्रीमती स्वाति एस. भदोरिया

Last updated on : January 16, 2021
Source : chamoli.gov.in

Uttarakhand GK Notes पढ़ने के लिए — यहाँ क्लिक करें

5 Comments

    • महोदय सादराभिवादनम् ।।

      चमोली की गुफाएं शीर्षक में
      …………………………………………………..

      व्यासादिगुफाओं की सूची मेंं अत्रिमुनि गुफा भी अत्यन्त प्राचीन गुफा है जहाँ अनेक दिव्यवर्षों तक वैदिक कालीन मन्त्रदृष्टा ऋषि भगवान अत्रि ने तपस्या की । यहाँ पर अत्रि कुण्ड , अमृत गंगा का उदगम स्थान भी है इस अमृत धारा का सौंदर्य अलौकिक एवं पुण्यप्रदान करने वाला है ।

      यदि उपर्युक्त शीर्षक के व्यासादिगुफाओं की नामवली में अत्रिगुफा को जोडा़ जायेगा तो निसन्देह सामान्य जनमानस को भी विशिष्ट ज्ञानका लाभ प्राप्त होगा ।
      यह स्थान विश्ववविख्यात सती शिरोमणी अनसूया आश्रम जो पुत्रवरदायनी के रुप में विख्यात है इस स्थान से अत्रि आश्रम 1:50 किलोमीटर आगे है ।

      अतः आपसे निवेदन है कि इस विषय का अनुसंधान कर प्राचीन एवं अलौकिक स्थान को यथायोग्य सूची में अवश्य सम्मिलित कर कृतार्थ करें ।। सधन्यवाद

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*