RPSC School Lecturer exam paper 3 January 2020- 1st grade Hindi (Answer Key)

RPSC School Lecturer exam paper 3 January 2020- 1st grade Hindi (Answer Key): Rajasthan RPSC School Lecturer exam paper 1st grade Hindi 3 January 2020 with Answer Key. RPSC School Lecturer exam paper for 1st grade Hindi held on 3 January 2020 in Rajasthan state.

Exam Paper: RPSC School Lecturer exam  2020
Subject: Hindi
Exam Organiser: RPSC (Rajasthan Public Service Commission)
Exam Date & Time: 03/01/2020 (2 PM to 5 PM)
Total Question: 150

RPSC School Lecturer exam paper 2020 (1st grade)

निर्देश- प्रश्न संख्या 1 से 3 तक के उत्तर निम्नांकित गद्यांश के आधार पर दीजिए
अपठित गद्यांश काफी लम्बे इतिहास के अन्दर, भूगोल ने भारत को जो रूप दिया. उससे वह एक ऐसा देश बन गया, जिसके दरवाजे बाहर की ओर से बन्द थे। समुद्र और महाशैल हिमालय से घिरा होने के कारण, बाहर से किसी का इस देश में आना आसान नहीं था। कई सहस्त्राब्दियों के भीतर, बाहर से लोगों के बड़े-बड़े झुंड भारत में आए. किंतु आर्यों के आगमन के बाद से कभी ऐसा नहीं हुआ. जब बाहरी लोग बहुत बड़ी संख्या में भारत आए हों। ठीक इसके विपरीत, एशिया और यूरोप के आर-पार मनुष्यों के अपार आगमन और निष्क्रमण होते रहे, एक जाति दूसरी जाति को खदेड़कर वहाँ खुद बसती रही और इस प्रकार जनसंख्या की बुनावट में बहुत बड़ा परिवर्तन होता रहा। भारत में, आर्यों के आगमन के बाद, बाहरी लोगों के जो आगमन हुए उनके दायरे बहुत ही सीमित थे। उनका कुछ न कुछ प्रभाव तो पड़ा, किन्तु उससे यहाँ की बुनियादी जनसंख्या के स्वरूप में कोई बड़ा परिवर्तन नहीं आया।

1. उपर्युक्त गद्यांश में इनमें से किस बिन्दु पर चर्चा नहीं हुई है
(1) भौगोलिक स्थिति
(2) ऐतिहासिक घटनाक्रम
(3) सामाजिक संरचना
(4) आर्थिक विकास

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

2. भारत की जनसंख्या के स्वरूप में लम्चे इतिहास में बहुत बड़ा परिवर्तन नहीं आया। इसका एक बड़ा कारण है
(1) आर्यों के बाद भारत में बाहर से कोई नहीं आया।
(2) भौगोलिक कारणों से बड़ी संख्या में भारत पहुँचना आसान न था।
(3) भारत के पास पर्याप्त सैन्य बल था।
(4) एक जाति दूसरी जाति को खदेडकर यहाँ बसी अतः पुरानी जाति के चिन्ह मिटते गए।

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

3. उपर्यक्त गद्यांश के अनुसार निम्न में से कौन-सा कथन असत्य है
(1) कई सहस्त्राब्दियों के भीतर बाहर से लोगों के अनेक झुण्ड भारत में आए।
(2) भारत की परिसीमा लोगों को यहाँ आने के लिए आमंत्रित करती है।
(3) जातियों के आपसी संघर्ष जनसंख्या के स्वरूप को प्रभावित करते हैं।।
(4) भारत के संदर्भ में इसकी भौगोलिक सीमाएँ इसकी रक्षक सिद्ध हुई हैं।

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

निर्देश-प्रश्न संख्या 4 से 6 के उत्तर निम्नांकित पद्यावतरण के आधार पर दीजिए –
स्नेह-सिंचित न्याय पर नव विश्व का निर्माण।
एक नर में अन्य का निःशक, दृढ़ विश्वास,
धर्म दीप्त मनुष्य का उज्जवल नया इतिहास –
समर, शोषण, ह्रास की विरुदावली से हीन,
पृष्ठ जिसका एक भी होगा न दग्ध, मलीन।
मनुज का इतिहास, जो होगा सुधामय कोष,
छलकता होगा सभी नर का जहाँ सन्तोष ।

4. उपर्युक्त अवतरण के अनुसार मानव का नया इतिहास’ कैसा होगा?
(1) सबको आजीविका प्रदान करने वाला
(2) सबको संतोष प्रदान करने वाला
(3) धनधान्य से परिपूर्ण
(4) सब प्रकार की सुविधाओं से सम्पन्न

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

5. नए विश्व के निर्माण का आधार इनमें से क्या होगा?
(1) तकनीकी विकास
(2) कठोर न्याय व्यवस्था
(3) मानव एकता
(4) स्नेह युक्त न्याय

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

6. इस अवतरण में किस प्रकार के ज्ञान को मानव के लिए कल्याणकारी माना है?
(1) आध्यात्मिक ज्ञान
(2) लोक कल्याणकारी ज्ञान
(3) तकनीकी ज्ञान
(4) समता विधायक ज्ञान

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

7. ‘सुबरन को ढूंढत फिरै कवि कामी अरु चोर’
उपर्युक्त पंक्ति से इनमें से कौन-सा अलंकार है?
(1) व्यतिरेक
(2) यमक
(3) भ्रान्तिमान
(4) श्लेष

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

8. “निम्नलिखित कहानियों को उनके कहानीकारों के साथ सुमेलित कीजिए
कहानी – कहानीकार
(अ) चतुरी चमार (i) जैनेंद्र
(ब) नीलम देश की राजकन्या (ii) उपेंद्रनाथ ‘अश्क’
(स) डाची (iii) निराला
(द) परिंदे (iv) निर्मल वर्मा
(1) (अ)-(i), (ब)-(iv), (स)-(ii), (द) (iii)
(2) (अ)-(ii), (ब)-(iii), (स)-(iv), (द)-(i)
(3) (अ)-(iv), (ब)-(ii), (स)-(ii), (द)-(i)
(4) (अ)-(iii), (ब)-(i), (स)-(ii), (द)-(iv)

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

9. ‘ज्ञान तभी उपयोगी है जब वह स्वयं के निरीक्षण के द्वारा प्राप्त किया गया हो, सिद्धांत है
(1) यूरिस्टिक विधि
(2) क्रिया विधि
(3) प्रदर्शन विधि
(4) साक्षात्कार विधि

Show Answer

Answer – 1

Hide Answer

10. निम्नलिखित में से कौन प्रभुत्ववादी अनुदेशनात्मक आव्यूह का प्रकार नहीं है?
(1) अनुवर्ग शिक्षण
(2) पाठ प्रदर्शन
(3) योजना विधि
(4) व्याख्यान विधि

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

11. निम्नलिखित में से शुद्ध वाक्य कौन सा है?
(1) तुलसी ने मानस की रचना लिखी है।
(2) लक्ष्मण के मूर्छित होने पर राम विलाप करके रोने लगे।
(3) अपराधी को मृत्युदण्ड दिया गया।
(4) कालचक्र के पहिये से बचना संभव नहीं है।

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

12. ‘भोर का तारा’ एकांकी की पात्र छाया के अनुसार प्रत्येक पुरुष के लिए स्त्री इनमें से क्या है?
(1) श्रृंगार मूर्ति
(2) कविता
(3) कल्पना
(4) देवी

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

13. “अखिल भुवन चर अचर सब, हरि मुख में लखि मात।
चकित भई गद्गद् वचन, विकसित दृग पुलकात।।
इन पंक्तियों में निम्नलिखित में से कौनसा रस है?
(1) वीर रस
(2) अदभुत रस
(3) श्रृंगार रस
(4) करुण रस

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

14. रीतिमुक्त कवियों के संदर्भ में इनमें से कौन सा कथन गलत है?
(1) रीतिमुक्त कवियों के प्रेम वर्णन में विरह व्यथा प्रधान है।
(2) रीतिमुक्त कवियों में रीतिबद्ध कवियों जैसी ऐन्द्रिय वासना नहीं है।
(3) रीतिमुक्त काव्य में कवियों की प्रेमानुभूति को आत्माभिव्यक्ति की शैली में स्थान प्राप्त हुआ है।
(4) रीतिमुक्त कवियों ने प्राचीन काव्य परम्परा को बड़ी गहराई से ग्रहण किया है।

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

15. हिन्दी साहित्य का आरंभ 693 ई. से मानने वाले इतिहासकार इनमें से कौन है?
(1) डॉ. नगेन्द्र
(2) रामचन्द्र शुक्ल
(3) हजारीप्रसाद द्विवेदी
(4) राम कुमार वर्मा

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

16. सरकारी प्रतिष्ठानों द्वारा सामान आपूर्ति या निर्माण आदि कार्यों हेतु इनमें से कौन सा पत्र समाचार पत्रों में प्रकाशित किया जाता है?
(1) परिपत्र
(2) अधिसूचना
(3) निविदा
(4) ज्ञापन

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

17. निम्नलिखित में से कौन से कवि ‘अष्टछाप’ के नहीं हैं?
(1) दामोदरदास
(2) कुंभनदास
(3) कृष्णदास
(4) छीतस्वामी

Show Answer

Answer – 1

Hide Answer

18. सही मिलान कीजिए
संज्ञानवादी अवधारणा – मुख्य प्रवर्तक
(1) अभिग्राही अधिगम – (अ) बेरी जिमरमैन
(2) सतही एवं गहन उपागम – (ब) पियाजे
(3) स्वनियमित अधिगम – (स) ऑसबेल
(4) विकासवादी सिद्धांत पर आधारित अधिगम (द) फेरेन्स मटन
(1) (1)-(द), (2)-(ब), (3)-(स), (4)-(अ)
(2) (1)-(स), (2)-(द), (3)-(अ), (4)-(ब)
(3) (1)-(द), (2)-(स), (3)-(ब), (4)-(अ)
(4) (1)-(ब), (2)-(अ). (3)-(स), (4)-(द)

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

19. निम्नलिखित का सही युग्म बनाइये –
अधिगम – धारणाप्रतिपादक/समर्थक
(अ) उद्दीपक-अनुक्रिया सम्बंधों की संरचना (1) कोहलर
(ब) संकेत अधिगम (2) कुर्ट लेनिन
(स) क्षेत्र सिद्धांत (3) थॉर्नडाइक
(द) अन्तर्दृष्टि अधिगम (4) टोलमैन
(1) (अ)-3, (ब)-4, (स)-2, (द)-1
(2) (अ)-2, (ब)-4, (स)-3. (द)-1
(3) (अ)-4, (ब)-3, (स)-1 (द)-2
(4) (अ)-3, (ब)-1, (स)-2, (द)-4

Show Answer

Answer – 1

Hide Answer

20. कष्ण भक्ति काव्य के संदर्भ में इनमें से कौन-सा कथन असत्य है?
(1) सखी संप्रदाय को प्रवर्तन स्वामी हरिदास द्वारा किया गया।
(2) राधावल्लभ संप्रदाय में राधा का स्थान गौण तथा कृष्ण का स्थान प्रधान तथा उच्च माना गया है।
(3) नन्ददासन नन्ददास ने ‘भँवरगीत’ नामक ग्रंथ की रचना की थी।
(4) भगवत्कृपा की प्राप्ति के लिए सूर की भक्ति पद्धति में अनुग्रह का प्राधान्य है।

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*