UPTET Exam Paper 18 November 2018 - Child Development & Teaching Method Part (Answer Key)

UPTET Exam Paper 18 November 2018 – Child Development & Teaching Method Part (Answer Key)

UPTET Exam Paper 18 November 2018 – Paper 1 Child Development & Teaching Method Part (Answer Key): UPTET (Teachers Eligibility Test) Paper 1: Recruitment exam paper of teachers for Primary Level (Class 1 to Class 5) held by Uttar Pradesh Basic Education Board (UPBEB) on 18 November 2018 is available here.

परीक्षा  :— UPTET (Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test)
भाग :— बाल विकास एवं शिक्षण विधि (Child Development & Teaching Method)
परीक्षा आयोजक  :— UPBEB
कुल प्रश्न :— 30

UPTET Exam Paper 1 (बाल विकास एवं शिक्षण विधि)- 18 November 2018

1. निम्न में से कौन-सा शिक्षण का सूत्र नहीं है?

Advertisement

(1) सरल से कठिन की ओर
(2) अनिश्चित से निश्चित की ओर
(3) दृश्य से अदृश्य की ओर
(4) निगमन से आगमन की ओर

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

2. सूक्ष्म-शिक्षण चक्र का प्रथम पद होता है
(1) प्रतिपुष्टि
(2) शिक्षण
(3) योजना बनाना
(4) प्रस्तावना

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

3. निम्न में से कौन-सा अवबोध स्तर के शिक्षण में शामिल है?
(1) पृथक्करण
(2) अनुप्रयोग
(3) तुलना
(4) अन्वेषण

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

4. शैक्षिक सुधारों में प्रभावी विकेन्द्रीकरण तभी संभव होगा
A. जब खंड व संकुल संदर्भ केंद्रों की भागीदारी बढ़े
B. स्थानीय संदर्भ व्यक्ति उपलब्ध हो
C. अध्यापकों के पास संसाधन और प्रासंगिक सामग्री भी मौजूद हो
सही उत्तर चुनें :
(1) A और C
(2) A और B
(3) B और C
(4) A, B और C

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

5. एक छात्र पढ़ रहा है, उसका नाम लेकर किसी ने बुलाया। निम्न में से किस संवेदना द्वारा वह (छात्र) अपनी अनुक्रिया प्रकट करेगा?

Advertisement



(1) दृष्टि संवेदना
(2) स्पर्श संवेदना
(3) ध्वनि संवेदना
(4) प्रत्यक्षण संवेदना

Show Answer

Answer – 1

Hide Answer

6. पियाजे के सिद्धान्त के अनुसार प्रासंक्रियात्मक अवस्था की अवधि क्या है?
(1) चार से आठ साल
(2) जन्म से दो साल
(3) दो से सात साल
(4) पाँच से आठ साल

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

7. निम्न में से कौन-सी बाद की बाल्यावस्था के बौद्धिक विकास की विशेषता नहीं है?
(1) भविष्य की योजना की सूझ-बूझ
(2) विज्ञान की काल्पनिक कथाओं में अधिक रुचि
(3) बढ़ती हुई तार्किक शक्ति
(4) काल्पनिक भयों का अन्त

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

8. इनमें से कौन मनोवैज्ञानिक ‘भाषा विकास से संबद्ध है?
(1) पैवलव
(2) बिने
(3) चोम्स्की
(4) मास्लो

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

9. थॉर्नडाइक ने अपने सिद्धान्त को किस शीर्षक से सिद्ध किया?
(1) संज्ञानात्मक अधिगम
(2) अधिगम के प्रयास एवं भूल
(3) संकेत अधिगम
(4) स्थान अधिगम

Show Answer

Answer – 2

Hide Answer

10. गिरोह अवस्था किस आयु-वर्ग एवं विलम्ब-विकास से संबंधित है?
(1) 16-19 वर्ष एवं नैतिकता
(2) 3-6 वर्ष एवं भाषा
(3) 8-10 वर्ष एवं समाजीकरण
(4) 16-19 वर्ष एवं संज्ञानात्मक

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

11. पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक विकास की तृतीय अवस्था निम्न में से कौन-सा है?
(1) औपचारिक संक्रिया अवस्था
(2) पूर्व-संक्रिया अवस्था
(3) मूर्त संक्रिया अवस्था
(4) संवेदनात्मक गामक अवस्था

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

12. निम्न में से अधिगम में योगदान देने वाले मनोवैज्ञानिक कारकों में कौन-सा शामिल नहीं है?
(1) अधिगम की इच्छा
(2) प्रेरणा
(3) रुचि
(4) विषयवस्तु का स्वरूप

Show Answer

Answer – 4

Hide Answer

13. निम्न में से सामाजिक मूल्य कौन-सा है?
(1) सहायतापरक व्यवहार
(2) प्राथमिक लक्ष्य
(3) मूल प्रवृत्ति
(4) आक्रामकता की आवश्यकता

Show Answer

Answer – 1

Hide Answer

14. पश्च अन्वेषण तथा साधन-साक्ष्य विश्लेषण निम्न में से किसके उदाहरण हैं?
(1) स्वतःशोध
(2) एल्गोरिदम
(3) मानसिक वृत्ति
(4) प्रकार्यात्मक स्थिरता

Show Answer

Answer – 3

Hide Answer

15. “सीखने के वक्र अभ्यास द्वारा सीखने की मात्रा, गति , और प्रगति की सीमा को ग्राफ पर प्रदर्शित करते हैं।’
यह किसने कहा है?
(1) स्किनर
(2) रॉस
(3) एबिंगहास .
(4) एम० एल० बिग्गी

Show Answer

Answer – *

Hide Answer

You may also like :

1 Comment

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*