Category archive

हिंदी व्याकरण

पंडित जवाहर लाल नेहरू पर निबंध

जवाहर लाल नेहरू पर निबंध, पंडित जवाहर लाल नेहरू पर निबंध हिंदी में (Pandit Jawaharlal Nehru essay in Hindi) : जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमन्त्री थे। जवाहरलाल नेहरू का प्रधानमन्त्री के रूप में कार्यकाल 15 अगस्‍त, 1947 से 27 मई, 1964 तक रहा। पंडित जवाहर लाल नेहरू बच्चों के बीच खासा लोकप्रिय थे इसीलिए… Keep Reading

लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध

लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध (lal bahadur shastri essay in hindi): लाल बहादुर शास्त्री अपनी समर्पित सेवा एवं उदात्त निष्ठा के लिए प्रसिद्ध थे। लाल बहादुर शास्त्री भारत के दूसरे प्रधानमंत्री और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस राजनीतिक दल के एक वरिष्ठ नेता थे। श्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को उत्तर प्रदेश के… Keep Reading

महात्मा गाँधी पर निबंध

महात्मा गाँधी पर निबंध हिंदी में (Mahatma Gandhi Jayanti 2 October) : महात्मा गांधी के जन्म दिन 2 अक्टूबर को ही हर वर्ष गाँधी जयंती के रूप में मनाया जाता है। महात्मा गांधी को विश्व में अहिंसा के प्रतीक के रूप में जाना जाता है। उनके जन्मदिवस यानि की 2 अक्टूबर को ‘अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस’… Keep Reading

जन्माष्टमी पर निबंध

जन्माष्टमी पर निबंध (janmashtami par nibandh) जन्माष्टमी का निबंध हिंदी में : भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिन को ही जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता है। भगवान श्रीकृष्ण का जन्म दिवस यानि कि जन्माष्टमी भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। भगवान श्रीकृष्ण भगवान विष्णु के दशावतारों में से 8वां अवतार… Keep Reading

पर्यायवाची शब्द

पर्यायवाची शब्द (paryayvachi shabd) : समान अर्थवाले शब्दों को ‘पर्यायवाची शब्द’ या ‘समानार्थी या समानार्थक’ शब्द कहते हैं। ‘पर्यायवाची’ शब्द ‘पर्याय और वाची’ दो शब्दों से मिलकर बना है, ‘पर्याय’ का अर्थ होता है ‘समान’ तथा ‘वाची’ का अर्थ होता है ‘बोले जाने वाले’ अर्थात जिन शब्दों का अर्थ या भाव मिलता जुलता या समान… Keep Reading

संधि एवं संधि के भेद

संधि का अर्थ (Sandhi in Hindi) : ‘संधि’ संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ होता है – ‘मेल’। दो वर्णों के मेल या जोड़ को ही संधि कहते हैं। संधि की परिभाषा दो वर्णों के मेल से होने वाले विकार (अर्थात परिवर्तन) को संधि कहते हैं। जैसे — भानु + उदय= भानूदय महा + ऊर्मि = महोर्मि… Keep Reading

Hindi Grammar PDF – हिंदी व्याकरण नोट्स PDF

Hindi Grammar PDF or Hindi Vyakran PDF हिंदी व्याकरण की नोट्स PDF फाइल आप यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं। ज्यादातर सरकारी नौकरी भर्ती परीक्षाओं में हिंदी व्याकरण से जुड़े कई प्रश्न पूछे जाते हैं। संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, अलंकार, लिंग, वचन, सन्धि, पर्यायवाची, मुहावरे और लोकोक्ति आदि से विभिन्न प्रश्न पूछे जाते हैं, इन्ही प्रश्नों को… Keep Reading

विराम चिन्ह के प्रकार

विराम चिन्ह के प्रकार – विराम का अर्थ होता है, ठहराव लेना या रुकना। लेखन को प्रभावी रूप देने के लिए लेखक द्वारा कई प्रकार के विराम चिन्हों का प्रयोग किया जाता है जोकि लेखन में भावों की अभिव्यक्ति, वाक्य का अर्थ स्पष्ट करने, उतार-चढाव और ठहराव को दर्शाने के लिए आवश्यक होते हैं। ऐसे ही विशेष चिन्हों को… Keep Reading

समास व समास के भेद

समास का अर्थ व समास के भेद : समास की परिभाषा समास :— दो अथवा दो से अधिक शब्दों से मिलकर बने हुए नए सार्थक शब्द (अर्थपूर्ण शब्द) को समास कहते हैं। अर्थात जब कोई दो शब्द मिलकर एक ऐसे नये शब्द का निर्माण करें, जिसका कोई अर्थ हो, ऐसे नए शब्दों को ही समास कहा जाता है।… Keep Reading

मुहावरे और कहावतें

प्रतियोगी परीक्षाओं में आने वाले प्रमुख व महत्वपूर्ण मुहावरे और कहावतें (important idioms and proverbs) यहाँ दी गयी हैं। जोकि विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं। मुहावरा क्या है – ऐसा वाक्यांश है शब्दों का समूह जो अपने सामान्य अर्थ को छोड़कर किसी विशेष अर्थ को व्यक्त करते हैं ऐसे वाक्यांशों को व्याकरण की दृष्टि… Keep Reading