UKPSC assistant engineer solved Agricultural Engineering-2 paper 2007

UKPSC सहायक इंजीनियर साल्व्ड Agricultural Engineering-2 पेपर 2007

101. खेतों में फसल को उपलब्ध होने वाला पानी पाया जाता है
(a) क्षेत्र क्षमता एवं संतृप्त बिन्दु के बीच में
(b) क्षेत्र क्षमता एवं स्थायी म्लानि (परमेनेन्ट विल्टिंग) बिन्दु के बीच में
(c) क्षेत्र क्षमता एवं गुरुत्वीय जल के बीच में
(d) उपरोक्त में से किसी में भी नही

Show Answer

Answer– b

Hide Answer


102. सिंचाई की सबसे अधिक दक्षता वाली विधि होती है
(a) कूँड़ सिंचाई
(b) बौछारी सिंचाई
(c) बूँद-बूँद (टपक) सिंचाई
(d) थाला बनाकर सिंचाई

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

103. एक फसल की सिंचाई हेतु कुल पानी की मात्रा को कहते हैं
(a) ड्यूटी
(b) डेल्टा
(c) बेस
(d) कमान्ड

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

104. साधारणतया जमीन की निचली सतह से पानी को निकाला जाता है
(a) जी.आई. पाइप द्वारा।
(b) खुली नालियों द्वारा।
(c) टाइल नालियों द्वारा।
(d) उपरोक्त में से कोई भी नहीं।

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

105. तनावमापी (टेन्सियोमीटर) द्वारा मैट्रिक चूषण (मैट्रिक पोटेन्शियल) नापने की अधिकतम सीमा साधारणतया होती है (a) 2 वायुमण्डलीय दबाव के नीचे।
(b) 1.50 वायुमण्डलीय दबाव के नीचे।
(c) 1 वायुमण्डलीय दबाव के नीचे।
(d) 1.80 वायुष्मण्डलीय दबाव के नीचे।

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

106. अपवाह गुणांक पानी की निकासी की वह गहराई है, जिसे क्षेत्र विशेष से निकाला जाता है




(a) 48 घंटों में
(b) 24 घंटों में
(c) 8 घंटों में
(d) 1 घंटे में

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

107. अपकेन्द्री-पम्प की चूषण-उत्थापन की गहराई (सक्शन लिफ्ट) वास्तव में होती है
(a) 2 वायुमण्डल से कम
(b) 2 वायुमण्डल के बराबर
(c) 2 वायुमण्डल से अधिक
(d) एक वायुमण्डल से कम

Show Answer

Answer– d

Hide Answer

108. एक फसल को 4 सेन्टीमीटर सिंचाई के पानी की आवश्यकता है। यदि इसे 5 सेन्टीमीटर पानी दिया जाता है, तो इसकी एप्लीकेशन दक्षता होगी
(a) 60 प्रतिशत
(b) 70 प्रतिशत
(c) 80 प्रतिशत
(d) 90 प्रतिशत

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

109. यदि एक अपकेन्द्रीय-पम्प की गति को दोगुना कर दिया जाता है, तो उसका निस्सरण होगा
(a) अपरिवर्तनीय
(b) दोगुना
(c) आधा
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

110. एक पम्प जो कि पूर्णत: जलमग्न होने पर ही कार्य करता है, उसे कहा जाता है
(a) अपकेन्द्रीय पम्प
(b) डीज़ल-पम्प सेट
(c) निमग्न (सबमर्सिबल) पम्प सेट
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

111. अधिक अंतःस्पंदन वाली मृदा है
(a) बलुई मृदा
(b) सिल्ट-दोमट मृदा
(c) चिकनी मृदा
(d) पांशु-चिकांनी मृदा

Show Answer

Answer– a

Hide Answer

112. लेसी के सिद्धान्त से एक सिंचाई नाली को अभिकल्पित (डिज़ाइन) करने हेतु निम्नलिखित को परिवर्तनशील लिया गया है :
(a) प्रवाह को गहराई
(b) जलीय औसत त्रिज्या
(c) उपरोक्त दोनों को
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

113. एक कट-थ्रॉट फ्लूम निम्नलिखित का ही संशोधित रूप है:
(a) सिपोलेट्टी वीयर
(b) पार्शल फ्लूम
(c) एच-फ्लूम
(d) उपरोक्त में से कोई भी नहीं

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

114. एक बूँद-बूँद (टपकन) सिंचाई की लाइन में घर्षण गुणांक के आकलन हेतु समीकरण निम्न में से किसके द्वारा दिया गया ?
(a) विलियम्स एवं हेज़न
(b) होवेल एवं हिलेल
(c) वू एवं गिटलिन
(d) ब्लेसियस

Show Answer

Answer– d

Hide Answer

115. शुद्ध सिंचाई की मात्रा 12 सेन्टीमीटर है और खेत-दक्षता 80 प्रतिशत है, तो खेत में कुल सिंचाई मात्रा कितनी होगी ?
(a) 10 सेन्टीमीटर
(b) 12 सेन्टीमीटर
(c) 15 सेन्टीमीटर
(d) 18 सेन्टीमीटर

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

116. एक वर्ष में निर्गम द्वार के माध्यम से वास्तविक सिंचित क्षेत्रफल को कहते हैं
(a) एकल कमान्ड क्षेत्रफल
(b) कृषि-योग्य कमान्ड क्षेत्रफल
(c) सिंचाई की तीव्रता
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

117. उत्सर्जकों का प्रयोग होता है
(a) बौछारी सिंचाई में
(b) जल-पम्प में
(c) सतही सिंचाई में
(d) बूंद-बूंद (टपकन) सिंचाई में

Show Answer

Answer– d

Hide Answer

118. एक मोल जल निकासी नाली में क्रिटिकल गहराई प्राय: मिलती है, जबकि आस्पेक्ट अनुपात होता है
(a) 5 : 7
(b) 2 : 3
(c) 1 : 3
(d) 2 : 5

Show Answer

Answer– a

Hide Answer

119. यदि लवणता संवेदनशील फसल में लवणीय पानी से सिंचाई किया जाता है, तो लीचिंग आवश्यकता होनी चाहिये
(a) कम
(b) अधिक
(c) साधारण (मध्यम)
(d) कम से मध्यम तक

Show Answer

Answer– b

Hide Answer

120. बौछारी सिंचाई पद्धति का प्रयोग लगभग सभी फसलों में किया जा सकता है, निम्नलिखित को छोड़कर :
(a) गेहूँ और चना
(b) तेलीय बीजों की फसलें
(c) चावल एवं जूट फसलें
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Show Answer

Answer– c

Hide Answer

You may also like :

प्रातिक्रिया दे

Your email address will not be published.

*